Top
Action India

कोरोना से जंग : लॉक डाउन में शहर बंद, हाइवे पर खुली नजर आ रही शराब की दुकानें

कोरोना से जंग : लॉक डाउन में शहर बंद, हाइवे पर खुली नजर आ रही शराब की दुकानें
X

उदयपुर। एएनएन (Action News Network)

कोरोना से जंग के लिए राजस्थान में 31 मार्च तक लॉक डाउन के आह्वान के बाद उदयपुर में सोमवार सुबह बाजारों में दुकानें नहीं खुलीं, लेकिन हाइवे पर शराब के ठेके खुले नजर आए। सविना स्थित थोक फल-सब्जी मंडी खुली लेकिन भीड़ पर पाबंदी रखी गई। शहर में कुछ दुकानें खुलीं भी तो पुलिस-प्रशासन ने समझाइश कर बंद करवा दी। कुछ नहीं माने तो उन पर सख्ती भी की गई। हालांकि, पुलिस के साथ आमजनता ने भी लोगों को समझाइश का काम बखूबी किया। सभी ने यही कहा, जान है तो जहान है।

उदयपुर में पुलिस ने सब्जी मंडियों को नहीं खुलने दिया। यहां भीड़भाड़ ज्यादा रहती है इसलिए इस पर फोकस किया गया। उदयपुर के तीज का चौक की सब्जी मण्डी नहीं खुली तो देहलीगेट पर रोजाना की तरह डट जाने वाले थड़ी सब्जी व्यवसायियों को पुलिस ने सख्ती से भगाया। हालांकि, रोजाना के मुकाबले कुछ ही थड़ी वाले आए थे। हालांकि, सविना स्थित थोक की फल-सब्जी मंडी खुली रही, लेकिन वहां भीड़ पर पाबंदी कर दी गई। व्यापारी भी ग्राहकों को सामग्री लेकर तुरंत निकल जाने का आग्रह करते देखे गए। इधर, उदयपुर-अहमदाबाद हाइवे पर शराब की दुकानें जरूर खुली नजर आईं।

इधर, शहर के प्रमुख स्थल रोडवेज बस स्टैंड के बाहर उदयपोल चौराहे को पूरा नाका बना दिया गया। बाहर से आने वाली गाडिय़ों यहां तक कि दुपहिया वाहन चालकों को भी रोक कर आने-जाने का कारण पूछा गया। उनके मुंह पर रुमाल बांधने के लिए ताकीद किया गया। संतोषजनक जवाब मिलने पर ही उन्हें शहर में प्रवेश मिला। इधर, शहर के विभिन्न समाजों के मंदिर भी बंद नजर आए। सुबह-सुबह मंदिरों के लिए आने वाली माला की पोटलियां भी मंदिरों के द्वार पर लटकी नजर आईं। लोगों ने बाहर से ही भगवान को नमन किया और देश पर आई इस मुसीबत से निजात की कामना की।

Next Story
Share it