Top
Action India

चीन की तरह अन्य देश भी मृतक संख्या में करेंगे संशोधन: WHO

चीन की तरह अन्य देश भी मृतक संख्या में करेंगे संशोधन: WHO
X

नई दिल्ली । एएनएन (Action News Network)

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना से मरने वालों के संख्या में चीन द्वारा अचानक बढोत्तररी करने पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। डब्ल्यूएचओ ने अपने एक बयान में कहा कि चीन के वुहान में शुरुआत के दौर में हालात इतने ख़राब थे की पहले लोगों को ठीक करना जरुरी था। उस वक़्त किसी के पास इतना धैर्य नहीं था की मरने वालों की गिनती करे। जब चीन में हालत सही हो गए और अब कोरोना वायरस संक्रमण को नियंत्रित किये जाने के बाद सही आंकड़े सामने आ रहे है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यह भी कहा कि हमें उम्मीद है कि चीन के तरह हीं कई देश अपनी मृतक संख्या को संशोधित कर सकते हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि वुहान में संक्रमण बहुत तेजी से फैला और प्राधिकारियों के लिए हर मौत एवं संक्रमण के मामले को दर्ज करना मुश्किल हो गया है। वुहान में प्राधिकारियों ने शुरुआत में इस वायरस को दुनिया के सामने लाने में समय लगा दिया और काफी समय तक इसे छिपाने की कोशिश भी की थी। WHO ने यह भी कहा कि इस संक्रमण को लेकर ऑनलाइन सचेत करने वाले चिकित्सकों को चीन ने सजा दी थी। कोविड-19 संबंधी तकनीकी मामलों के लिए डब्ल्यूएचओ का नेतृत्व कर रही मारिया वान केरखोव ने कहा, 'संक्रमण जारी रहने के दौरान हर मामले और हर मौत को पहचानना चुनौतीपूर्ण होता है। WHO में कोरोना मामलों के देखरेख के लिए बनी विंग की अध्यक्ष मैरिया वैन ने कहा कि वह मानती हैं कि बहुत से देशों को भी चीन की तरह अपने रिकॉर्डों में बदलाव करना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि वुहान में कोरोना संकट के बढ़ते मामले में तेजी स्वास्थ्य सेवा प्रणाली पर घबरा गया था, उस समय उन लोगों पर काम का बहुत दबाव था, कुछ मरीजों की तो घर में ही मौत हो गई और अन्य लोग अस्थायी केंद्रों में थे। चिकित्साकर्मियों का ध्यान मरीजों के इलाज़ करने पर था, इसलिए उन्होंने समय पर कागजी काम नहीं किया। डब्ल्यूएचओ में आपात मामलों के निदेशक माइकल रेयान ने कहा, 'सभी देश ऐसी स्थिति का सामना करेंगे। लेकिन उन्होंने देशों से जल्द से जल्द सटीक आंकड़े मुहैया कराने की अपील की।

Next Story
Share it