Action India
अन्य राज्य

कृष्ण कुमार चन्द्रा की प्रथम कृति आनंद के दोहे का किया गया विमोचन

कृष्ण कुमार चन्द्रा की प्रथम कृति आनंद के दोहे का किया गया विमोचन
X

कोरबा । एएनएन (Action News Network)

कोरोना काल की चुनौतियों को स्वीकार करते हुए साहित्य भवन समिति कोरबा के साहित्यकारों ने आज गीतकार कवि कृष्ण कुमार चन्द्रा जिनका आज जन्मदिन भी है की प्रथम कृति आनंद के दोहे दोहा-संग्रह के विमोचन कार्यक्रम का आयोजन किया।

काव्य-संग्रह का विमोचन कोरबा जिला के जिला शिक्षा अधिकारी सतीश कुमार पांडे के करकमलों से संपन्न् हुआ। इस अवसर पर समिति के पदाधिकारियों की गरिमामय उपस्थिति रही। समिति के संरक्षक डॉ. माणिक विश्वकर्मा नवरंग ने इस कृति की समीक्षा भी लिखी है ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस संग्रह में सात सौ पच्चीस दोहे हैं जो कि जीवन के सभी क्षेत्रों पर प्रकाश डालते हैं, सभी दोहे सारगर्भित और पठनीय हैं।

शैक्षिक गुणवत्ता के साथ-साथ साहित्यिक पृष्ठभूमि से जुड़े जिला शिक्षा अधिकारी श्री पांडे जी ने शिक्षक-कवि चन्द्रा को संकटकाल में भी ऐसे साहसिक कार्य के लिए उनके दो दोहों का पाठ करते हुए शुभकामनाएँ देते हुए उत्साहवर्धन कर साहित्यकारों की सजगता पर प्रकाश डाला।

इसी कड़ी में समिति के संरक्षक प्रसिद्ध ग़ज़लकार यूनुस दानियालपुरी जी, अध्यक्ष दिलीप अग्रवाल नेता, सचिव मुकेश चतुर्वेदी कपाल ने भी अपने-अपने उद्गार प्रकट करते हुए विमोचन हेतु बधाई दी।

रचनाकार चन्द्रा ने दोहा-संग्रह के प्रकाशन का श्रेय डॉ.नवरंग और जाँजगीर के साहित्यकार विजय राठौर को दिया। साथ ही बताया कि इस कृति का नाम आनंद के दोहे अपने पिता अनंदराम चन्द्रा जो बांग्ला महाभारत के श्रेष्ठ गायक हैं के नाम को समर्पित किया है। कवि बलराम राठौर नेह, मानव सेवा मिशन बालको के केशव कुमार चन्द्रा सहित जिला शिक्षा कार्यालय के सदस्य उपस्थित रहे।कार्यक्रम के समापन पर बलराम राठौर ने आभार प्रदर्शन किया।

Next Story
Share it