Site icon HINDI NEWS,LATEST NEWS IN HINDI,ब्रेकिंग न्यूज,ACTION INDIA NEWS|एक्शन इंडिया समाचार

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की बर्बरता से की गई हत्या

राजस्थान

राजस्थान के उदयपुर में मंगलवार को 2 मुस्लिम युवकों ने टेलर ‘कन्हैया लाल’ की गला काट कर हत्या कर दी, हत्यारें कन्हैया की दुकान में कपडे सिलवाने के बहाने घुसे थे, और तभी अचानक उसपर तलवारों से हमला कर उसकी बेरहमी से दिनदहाड़े हत्या कर देते है।

आपको बता दे की बीतें दिनों टेलर कन्हैया लाल के सोशल मीडिया अकाउंट से ‘नूपुर शर्मा’ के विवादित बयान के समर्थन में एक पोस्ट शेयर की गई थी। जिसके कारण उसे पुलिस ने हिरासत में भी लिया था, बाद में कन्हैया को जमानत भी मिल गई थी, उसने कोर्ट में दलील दी थी की उसके 8 साल के बेटे से गलती से पोस्ट शेयर हुई थी। जिसके कारण एक समुदाय विशेष के लोग उसपर भड़क गए थे, और उससे जान से मारने की धमकी भी मिलने लगी थी।

उदयपुर(राजस्थान) में नेटबंदी के साथ लगा कर्फ्यू

कट्टर पंथ से ग्रस्त ‘मोहम्मद रियाज अंसारी’ और ‘ग़ौस मोहम्मद’ नाम के दो मुस्लिम युवको ने बदला लेने के लिए तालिबानी तरीके से कनहैया की हत्या कर दी आरोपियों ने हत्या का पूरा वीडियो भी बनाया है। उन्होंने वारदात के बाद सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर हत्या की जिम्मेदारी भी ली है।वीडियो में इन हत्यारों ने पीएम मोदी को भी जान से मारने की धमकी दी है,राजस्थान पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है, और उनसे पूछताछ भी जारी है। उदयपुर समेत पूरे राजस्थान में माहौल ख़राब न हो इसलिए राजस्थान सरकार ने हो इसलिए राजस्थान सरकार ने नेटबंदी कर दी है, और कर्फ्यू का भी ऐलान प्रसाशन द्वारा किया गया है।

NIA की 5 सदस्यीय टीम आरोपियों से पूछताछ के लिए दिल्ली से उदयपुर पहुंच चुकी है। इस केस को आतंकी हमले की तैयारी से जोड़कर देखा जा रहा है। मामले की पूरी जांच NIA को सौंपी जा सकती है। क्यों की जिस तरह कन्हैया की हत्या की गई और प्रधानमंत्री को मारने की धमकी दी गई है, उससे यह साफ़ जाहिर होता है की कोई असामाजिक संगठन देश का माहौल ख़राब करने में जुटा हुआ है।

दिल्ली में होने वाली है गैंगवारउत्तर प्रदेश उपचुनावों में भाजपा ने मारी बाज़ी

DELHI-NCR में देखने को मिल सकती है जलभराव की समस्या

CBSE Class 10th Result 2022 : कक्षा दसवीं की परीक्षा के नतीजे हुए घोषित

क्या कुर्सी बचा पाएंगे शिवसेना के उद्धव ?

Exit mobile version