Top
Action India

केनी डगलिश का कोरोना संक्रमित मिलना बहुत बड़ा झटका था: क्लोप्प

केनी डगलिश का कोरोना संक्रमित मिलना बहुत बड़ा झटका था: क्लोप्प
X

नई दिल्ली । एएनएन (Action News Network)

लिवरपूल के प्रबंधक जुर्गेन क्लोप्प ने कहा कि क्लब के महान फुटबॉलर केनी डगलिश का कोरोना वायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद क्लब के खिलाड़ियों और कर्मचारियों को एक झटका दे गया था। दरअसल, 69 वर्षीय डगलिश को कोरोना वायरस टेस्ट के लिए हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था जहां उन्हें टेस्ट के बाद पॉजिटिव पाया गया था। हालांकि उपचार के बाद उन्हें एक सप्ताह में ही घर भेज दिया गया था। क्लोप्प ने लिवरपूल की आधिकारिक वेबसाइट पर कहा, 'तीन दिन पहले जब मैंने इसके बारे में सुना था तो यह बहुत बड़ा झटका था।

लड़कों को हमारे वॉट्सएप ग्रुप में एक मेसेज भेजा गया था और हर कोई इससे सन्न रह गया था। यदि आप किसी भी ऐसे व्यक्ति को जानते हैं जो कि वायरस से संक्रमित है तो यह उस पल से बहुत अलग महसूस कराता है कि जब आप किसी संक्रमित व्यक्ति को नहीं जानते।'उन्होंने कहा, 'हम सभी जानते हैं कि यह भयानक बिमारी पूरे विश्व में दिल का दर्द पैदा कर रही है। लेकिन हममें से कई लोगों के लिए यह पहली बार था जब हमारे पास कोई इस बिमारी से व्यक्तिगत रूप से प्रभावित था।'बता दें, प्रीमियर लीग का सत्र कोरोना वायरस के चलते ब्रिटेन में लॉकडाउन के बाद स्थगित कर दिया गया था। लिवरपूल 25 अंको के साथ टेबल में शीर्ष पर है।कोरोना वायरस महामारी के चलते विश्व के 1 लाख से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गवाई है, वहीं 19 लाख से ज्यादा लोग अभी भी इससे संक्रमित हैं।

Next Story
Share it