Action India
अन्य राज्य

अज्ञान व अन्याय के खिलाफ लड़ने की प्रेरणा देती है दीपावलीः कैलाशानंद

अज्ञान व अन्याय के खिलाफ लड़ने की प्रेरणा देती है दीपावलीः कैलाशानंद
X

हरिद्वार। एआईएन

श्री दक्षिण काली पीठाधीश्वर स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी महाराज ने कहा कि रोशनी के इस पर्व को प्रेम, सौहार्द व श्रद्धापूर्वक मनाएं। शनिवार को पत्रकारों से वार्ता में उन्होंने कहा कि लंका विजय के पश्चात भगवान राम के अयोध्या पहुंचने पर मनायी गयी दीपावली पौराणिक काल से ही लोगों को अज्ञान व अन्याय के खिलाफ लड़ने की प्रेरणा देती है।

कैलाशानंद ब्रह्मचारी ने कहा कि धार्मिक पर्व आदि अनादि काल से सनातन परंपराओं को मजबूती प्रदान कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि धर्म की महत्ता को दर्शाने का सबसे अच्छा माध्यम पर्व ही हैं। हिंदू संस्कृति व सनातन परंपराएं देश दुनिया में अपनायी जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि दीपावली पर्व खुशियों के साथ मनाएं। अपनी खुशियों में दीन दुखियों को भी शामिल करें। गरीब, असहाय लोगों की मदद करने से पर्व की खुशीयां दोगुनी हो जाती हैं। साथ ही विशेष ईश्वरीय कृपा की प्राप्ति होती है। उन्होंने कहा कि दीपावली की खुशिीों में पर्यावरण का विशेष ध्यान रखें। पटाखों की तेज आवाज व उससे होने वाले प्रदूषण से पर्यावरण को होने वाले नुकसान तथा बीमार व वृद्धों को होने वाली परेशानी को देखते हुए पटाखे जलाने से परहेज करें। स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी ने बताया कि दीपावली की पूर्व रात्रि में भगवान बजरंग बली व मां काली की विशेष पूजा अर्चना की जाएगी। इसमें बड़ी संख्या में मां के भक्त शामिल होंगे।

Next Story
Share it