Action India
दिल्ली

चार महीने से लापता बच्चे को पुलिस ने उसके परिवार से मिलवाया

चार महीने से लापता बच्चे को पुलिस ने उसके परिवार से मिलवाया
X

नई दिल्ली। एक्शन इंडिया न्यूज़


रोहिणी जिले के बुद्ध विहार थाना पुलिस ने पिछले चार महीने से लापता एक सात साल के लापता बच्चे को उसके परिवार वालों से मिलवाया है। बच्चे के मिलने के बाद परिवार ने राहत की सांस ली और पुलिस कर्मियों का आभार व्यक्त किया। ज्ञात हो कि दिल्ली पुलिस 'ऑपरेशन मिलाप' के जरिये अभी तक सैंकड़ों लापता बच्चों को उनके परिवार वालों से मिलवा चुकी है।

रोहिणी जिले के डीसीपी प्रणव तयाल ने मंगलवार को बताया कि बीते 10 जून को निहाल विहार थाने के कमरुद्दीन नगर इलाके में रहने वाली एक महिला ने अपने सात साल के बेटे श्याम के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी, जो गली में खेलते समय अचानक लापता हो गया था। जिनको उन्होंने सात दिन तक इलाके में और उसक आसपास के इलाकों मे तलाशने की कोशिश की थी। लेकिन उनका बेटा नहीं मिला था। पुलिस ने मामला दर्ज किया। श्याम को तलाशने की काफी कोशिश की गई।

उसके रिश्तेदारों आदी से पूछताछ की गई। मार्किट एसोसिएशन आदी की सहायता ली गई थी। इस बीच बुद्ध विहार थाने में तैनात महिला हेड कांस्टेबल ज्योति और कांस्टेबल सुल्तान जोकि अभी तक दर्जनों बच्चों को तलाशकर उनके माता पिता से मिलवा चुके हैं। उनको भी श्याम को तलाशने का जिम्मा सौंपा गया था। उन्होंने रेलवे स्टेशन, मेट्रो स्टेशन, बस स्टैंड, पार्क और अस्पताल आदि की जांच की गई। दिल्ली और एनसीआर के चिल्ड्रन होम को भी चेक किया गया।

अंत में, यह पता चला कि लापता बच्चे को न्यू मुल्तान नगर स्थित आश्रम होप फाउंडेशन में जमा किया गया था। उसकी तस्वीरें बच्चे की मां को दिखाई गईं। उसने उसे अपने बेटे के रूप में पहचाना। जांच के दौरान, यह पता चला कि बच्चा घर जाने का रास्ता भूल गया था क्योंकि वह दिल्ली के तरीकों से परिचित नहीं था। वह रणहोला पुलिस को इलाके में लावारिस मिला था। बच्चे को माता-पिता को सौंप दिया गया है। उन्होंने बच्चे का पता लगाने के लिए दिल्ली पुलिस को बहुत धन्यवाद दिया।

Next Story
Share it