Top
Action India

रेप केस में फसाने की धमकी देकर लाखों रुपए के एक्सटॉर्शन का मामला, एक गिरफ्तार

रेप केस में फसाने की धमकी देकर लाखों रुपए के एक्सटॉर्शन का मामला, एक गिरफ्तार
X

नई दिल्ली। एक्शन इंडिया न्यूज़

रोहिणी जिले के विजय विहार इलाके में एक युवक को रेप केस में फसाने की धमकी देकर लाखों रुपए के एक्सटॉर्शन का मामला सामने आया है। पीड़ित की शिकायत पर विजय विहार पुलिस ने तुरंत केस दर्ज कर मंगोलपुरी निवासी आरोपित 33 वर्षीय तरुण को गिरफ्तार कर लिया। लड़की फरार है। पुलिस पूछताछ में आरोपित ने खुलासा किया कि लॉक डाउन में पैसों की भारी तंगी की वजह से उसने आरोपित लड़की जो कि मुंह बोली बहन है, उसकी मदद से एक्सटॉर्शन शुरू किया था।

पुलिस के अनुसार, पीड़ित 25 साल का युवक रोहिणी सेक्टर 1 में रहता है। एक अस्पताल में कार्यरत है। पीड़ित युवक ने पुलिस को बताया कि, 2018 में अस्पताल में काम के दौरान एक लड़की से जान पहचान हुई थी। उस लड़की से ऑफिस स्टाफ की वजह से 2020 तक संपर्क रहा।

इसी दौरान पीड़ित युवक को पता चला कि उस लड़की का फ्रेंड सर्कल सही नहीं है। वह एक एक्सटॉर्शन गैंग से जुड़ी हुई है। जिसके जरिये हनीट्रैप में फसाकर पैसा वसूली का काम करती है। नहीं देने पर रेप केस में फसाने की कहती है। बाद युवक ने धीरे धीरे उस लड़की से सपंर्क बंद कर दिया। आरोप है कि इसी दौरान लड़की ने पीड़ित युवक से पैसों की डिमांड की। युवक ने मना करने पर उसे रेप केस में फसाने की धमकी देने लगी।

युवक ने उसके फोन को उठाना बंद कर दिया। जिसके बाद अलग अलग नंबरों से युवक और उसकी बहनों के पास एक्सटॉर्शन के कॉल आने लगे। जिसमें कॉल करने वाला खुद को कभी मंगोलपुरी पुलिस स्टाफ तो कभी एसएचओ बताकर जेल भेजने की धमकी देता। जिसकी सभी ऑडियो कॉल रेकॉर्डिंग पीड़ित परिवार ने सेव करके रख लीं।

इधर पीड़ित युवक और उसका परिवार इस कदर हरासमेंट का शिकार होने लगा कि मां को टेंशन की वजह से हार्ट अटैक आया। जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। वहीं परिवार के पास जान से मारने की धमकी, घर से उठवा लेने की धमकी भारी कॉल आने का सिलसिला जारी रहा। खुद को पुलिस बताने वाला आरोपित पांच लाख समझौता कराने के लिए और पांच लाख लड़की को देने के लिए दबाव बनाने लगा।

आरोपितों ने आखिरी अल्टीमेटम 16 जून का दिया। इधर, पीड़ित ने विजय विहार थाने पहुंचकर आप बीती बताई। लगातार आ रही धमकी भारी कॉल्स सुनने के बाद एक्सटॉर्शन और धमकी की धाराओं में केस दर्ज किया। पैसों के लिए इंतज़ार करते मंगोलपुरी स्थित के-ब्लॉक निवासी आरोपित 33 वर्षीय तरुण को एसएचओ सुधीर कुमार व उनकी टीम ने 18 जून को गिरफ्तार कर लिया। वही आरोपित लड़की फरार है।


Next Story
Share it