Top
Action India

जिला अधिकारी जल संस्थान पर भड़के

जिला अधिकारी जल संस्थान पर भड़के
X

ऋषिकेश । Action India News

जिलाधिकारी डाॅ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने जिला गंगा सुरक्षा समिति की बैठक में विभागों के कामकाज की समीक्षा की। इस दौरान जल संस्थान अनुरक्षण शाखा गंगा सब डिविजन ऋषिकेश के कार्यों में असंतोष जताते हुए नाराजगी व्यक्त की।

जिलाधिकारी ने आई ऐंड डी एवं 26 एमएलडी एसटीपी और सीवर लाइन बिछाने से जुड़े सभी कार्याें को निर्धारित समय में पूर्ण करने के निर्देश दिए। पिछली बैठक में लिए गए निर्णयों पर कामकाज की प्रगति की समीक्षा की।

जल संस्थान अनुरक्षण शाखा गंगा सब डिविजन ऋषिकेश के कामकाज पर अधिकारियों ने उन्हें बताया कि ऋषिकेश मे 26 एमएलडी एसटीपी के कार्य गतिमान हैं। मायाकुंड एसपीएस की प्रगति 27 प्रतिशत, स्वर्गाश्रम एवं बापूग्राम एसपीएस की भौतिक प्रगति 72 प्रतिशत है।

मुख्य टैंक सीवर लाइन का कार्य 76 प्रतिशत पूरा हो चुका है। बैठक मे टेंचिंग ग्राउंड के लिए चिह्नित वनभूमि लीज पर लेने के लिए अनापत्ति प्रमाण-पत्र प्राप्त करने के निर्देश दिए गए। जिला अधिकारी ने गंगा नदी से सटे वार्डों में रोटेशन के आधार पर प्रत्येक सप्ताह स्वच्छता अभियान चलाने के निर्देश दिए।

गंगा सुरक्षा, त्रिवेणी घाट एवं गंगा की महत्ता की जागरुकता के लिए जिंगल गीत के प्रसारण के अलावा आस्था पथ पर सफाई के अलावा प्रकाश की व्यवस्था की जाए।उन्होंने कहा कि गौमुख से गंगासागर तक अवस्थित नगरों का विवरण दीवारों पर अंकित किया जाए।

गंगा के पौराणिक इतिहास की जानकारी दी जाए।उन्होंने सभी सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांटों का पानी सिंचाई तथा अन्य व्यवस्था में प्रयोग में लाये जाने के निर्देश दिए । 16 जुलाई को हरेला पर्व के अवसर पर नदी किनारे चम्पा, रात की रानी जैसे खुशबूदार पौधे रोपने के आदेश दिए।

उन्होंने कहा कि जिला गंगा सुरक्षा समिति के त्रैमासिक समाचार पत्र का प्रकाशन यथा समय किया जाए। बैठक में प्रभागीय वनाधिकारी राजीव धीमान, जिला विकास अधिकारी सुरेश मोहन डोभाल, नगर निगम ऋषिकेश के सहायक आयुक्त विनोद शाह समेत सिंचाई, जल निगम , जल संस्थान, प्रदूषण बोर्ड आदि अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Next Story
Share it