Top
Action India

देव परम्परा से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं

देव परम्परा से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं
X

कुल्लू। एएनएन (Action News Network)

कुल्लू स्थित रघुनाथ मन्दिर में रविवार को जगती (देव पूछ) का आयोजन किया गया। जगती में 150 से अधिक शामिल हुए देवी - देवताओं ने देव परम्परा से छेड़छाड़ पर अपनी नाराजगी जताई है तथा आम जन मानस को आगाह करते हुए कहा कि अगर इसी प्रकार देव परंपरा से छेड़छाड़ की जाती रही तो भविष्य में आपता से समाज को कोई नहीं बचा सकता।

देवी - देवताओं ने अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा आज के समय में इंसान बड़ा हो गया है व देवी देवता छोटे हो गए हैं। उन्होंने कहा देव भूमि में लोगों द्वारा अपने निजी हित के लिए देव परंपराओं से छेड़छाड़ की जा रही है जो बर्दाश्त नहीं होंगी।

इस जगती में यह कहा गया कि दशहरा उत्सव के दौरान नेताओं के सामने देवी देवताओं के बजंतरियों द्वारा देव धुन बजाई गई जो देव परम्परा के लिए ठीक नहीं है।

जगती में कहा गया कि देवी देवताओं के स्थानों पर गंदगी फैलाई जा रही है जिसे किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा इसका नुकसान भविष्य में देव घाटी के लोगों को ही उठाना होगा।

आयोजन में घाटी के आराध्य देव भगवान रघुनाथ जी के प्रथम सेवक महेश्वर सिंह विशेष रूप से उपस्थित रहे व उन्होंने कहा कि देवी देवताओं के गुरों ने एक मत से कहा कि पुरानी रीत हमें छोड़नी नहीं है व नई रीत शुरू करनी नहीं है। उन्होंने स्पष्ट किया कि देव समाज ने ढालपुर में शीघ्र ही काईका का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान देवी देवताओं के स्थानों का देव परम्परा के अनुसार शुद्धिकरण किया जाएगा।

Next Story
Share it