Top
Action India

नसबंदी कराने आई महिला का चिकित्सक ने मुक्‍के मारकर तोड़ा दांत, अपराध दर्ज

नसबंदी कराने आई महिला का चिकित्सक ने मुक्‍के मारकर तोड़ा दांत, अपराध दर्ज
X

अम्बिकापुर। एएनएन (Action News Network)

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर जिले से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। ज‍िले के मेडिकल कॉलेज में नसबंदी कराने आई महिला ने आरोप लगाया क‍ि डॉक्‍टर उसकी किसी बात से नाराज होकर उन्हें इतना तेज मुक्का मारा की दांत ही टूट गया। यह पूरा वाक्या स्वास्थ्य मंत्री के निवास से चंद कदमों की दूर पर स्थित अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज में हुई है। घटना के बाद आक्रोशित परिजनों ने मामले की शिकायत थाने में कर दी है। वहीं स्वास्थ मंत्री टीएस सिंहदेव ने फिलहाल जांच के बाद कार्रवाई करने की बात कही है। यह पूरा मामला सोमवार देर शाम की है।

अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज केवल इसलिए चर्चित नहीं है कि ये छत्तीसगढ के स्वास्थ मंत्री के गृह शहर का मेडिकल कॉलेज है। ये मेडिकल कॉलेज बेलगाम चिकित्सकों की कार्यस्थली के कारण ज्यादा मशहूर है। इस बार तो यहां मेडिकल कॉलेज मे नसबंदी कराने आई महिला के साथ चिकित्सकों ने किसी असमाजिक तत्व की तरह व्यवहार किया है। अस्‍पताल के बिस्तर में खून से लथपथ पड़ी महिला औऱ उसके टूटे दांत को हाथ मे लिए खड़ी मितानिन इस दर्दनाक घटना को बताया कि महिला के साथ किस कदर व्यवहार हुआ है।

जानकारी के अनुसार अम्बिकापुर के घुटरापारा वार्ड क्रमांक 23 में रहने वाली महिला संतोषी सिंह को वार्ड में रहने वाली मितानिन टीटी आपरेशन यानी की नसबंदी के लिए लेकर आई थी। लेकिन जब संतोषी को आपरेशन के लिए अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में लेकर आया गया तो डाॅक्टर ने अपनी आपरेशन की फार्मेलिटी के लिए महिला को पेट दबाने के लिए कहा औऱ वो नहीं दबा पाई, लिहाजा उसकी बात से नाराज चिकित्सक ने उसे चेहरे पर जोरदार मुक्के से वार कर दिया। हमले में महिला का दांत जबडे से अलग हो गया। इस बात से नाराज महिला के पति राणा प्रताप सिंह ने सोमवार की देर शाम को क्षेत्र के मणिपुर चौकी में डाक्टर के खिलाफ नामजद शिकायत दर्ज करा दी है।

वहीं इस घटना को लेकर मितानिन संघ की महिलाए भी काफी नाराज हैं। म‍ितान‍िनों के मुताबिक डाॅक्टर मरीज महिला और उनको लाने वाले मितानिनों से हमेशा ऐसा ही दुर्वव्यहार करते हैं। लिहाजा इस बार मितानिन एरिया कार्डिनेटर शशि राजवाड़े भी अपनी साथी मितानिनो के साथ ऐसे डाॅक्टरो पर कार्यवाही को लेकर मरीज महिला के साथ खडी हैं।

अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में किसी महिला की डाॅक्टर द्वारा पिटाई के बाद दांत टूटने की घटना शायद स्वस्थ चिकित्कसीय व्यवस्था के हिसाब से ठीक नहीं है। इस मामले में बिना किंतु परंतु के आरोपि‍त डाॅक्टर पर कार्रवाई होना चाहिए। लेकिन स्वास्थ मंत्री के गृह शहर के अस्पताल में इस तरह महिला के साथ मारपीट की घटना बेहद अफशोसजनक है और जब खुद मितानिनों ने इसकी शिकायत स्वास्थ मंत्री से की हो तो कार्रवाई में ज्यादा वक्त नहीं लगना चाहिए। लेकिन इसके अलग स्वास्थ मंत्री मामले की जांच के बाद कार्रवाई की बात कह रहे हैं, जो जांच और कार्रवाई सर्वविदित है।

Next Story
Share it