Top
Action India

जंगल से आए हाथियों ने खादर में रौंदी फसल

जंगल से आए हाथियों ने खादर में रौंदी फसल
X

ऋषिकेश। एएनएन (Action News Network)

कोरोना वायरस (कोविड- 19) से बचाव के लिए लोग घरों में कैद हैं। दूसरी ओर वन्यजीवों को सताने वाला मानवीयभय कम हो रहा है। वन्यप्राणी बस्तियों के पास आने लगे हैं। बीती देर शाम खादर में जंगल से आए हाथियों ने फसल रौंद दी।हुआ यह कि खदरी के दो किसानों को खेत में सुरक्षा तारबाड़ टूटने की आवाज सूचना दी। इसके बाद जैव विविधता समिति खदरी के अध्यक्ष पर्यावरणविद् विनोद जुगलान को ग्रामीणों ने सहयोग के लिए टॉर्च लेकर बुलाया ।

खेत पर टॉर्च की रोशनी पड़ते ही हाथी जंगल की ओर बढ़ गया।दूसरा वाकया खादर के खेतों का है । यहां ग्रामीण शुक्रवार सुबह अपने खेतों की देखभाल के लिए निकले तो जंगली हाथी के पैरों के निशान दिखे। इस बीच गुलदार के पंजों के निशान भी दिखाई दिए। खेतों की सीमा पर पहुंचते ही हिरणों के झुंड से सामना हो गया। कुछ देरबाद हिरणों का झुंड जंगल की ओर दौड़ गया

पर्यावरणविद् जुगलान का कहना है कि लॉक डाउन के बाद बंद हुई गाड़ियों की चिल्लपों से दूर शांत वातावरण का अनुकूल असर वन्यजीवों पर भी पड़ा है। जंगल सफारी भी पूरी तरह बंद है। इससे राजाजी नेशनल पार्क के वन्यजीवों में अभूतपूर्व परिवर्तन देख रहा है। गंगा भोगपुर में भी वन्यजीव जंगल से बाहर निकलते दिखाई दे रहे हैं। खदरी के ग्रामीणों ने बताया कि जंगली हाथी की आमद सोलर फेंसिंग से रुकी हुई थी। गांव की सीमा पर बनी गोशाला व ग्रामीणों की आवाजाही के लिए छोड़े गए रास्ते से जंगली हाथी प्रवेश कर रहे हैं। इसकी सूचना वन क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश आरपीएस नेगी को दी गई है।

Next Story
Share it