Action India
झारखंड

मरीज को अस्पताल में भर्ती कराने के साथ उसके घर और रास्तों को किया गया सैनिटाइज

मरीज को अस्पताल में भर्ती कराने के साथ उसके घर और रास्तों को किया गया सैनिटाइज
X

रामगढ़ । एएनएन (Action News Network)

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए जिला प्रशासन दिन रात मेहनत कर रहा है। छावनी परिषद के अधिकारी भी इस कार्य में कंधे से कंधा मिलाकर कार्य कर रहे हैं। दो दिन तक लगातार डीसी संदीप सिंह और एसपी प्रभात कुमार की निगरानी में नईसराय सीसीएल हॉस्पिटल और मांडू के हॉस्पिटल में पीपीई सूट से लैस कर्मचारियों के साथ कोरोना के एक्टिव मरीज को अस्पताल तक पहुंचाने का मॉक ड्रिल किया गया

इसके बाद इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाते हुए शुक्रवार को छावनी परिषद के सीईओ सपन कुमार की निगरानी में पीपीई सूट से लैस कर्मचारियों ने मरीज के घर और रास्तों को कैसे सैनिटाइज किया जाए, इसे लेकर मॉक ड्रिल किया। इस मौके पर छावनी परिषद के 5 कर्मचारी पीपीई सूट में लैस होकर शहर के झंडा चौक स्थित एक मकान में पहुंचे। वहां मकान तक पहुंचने के लिए पीपीई सूट में लैस कर्मचारियों ने स्प्रेयर से रास्तों और गलियों को सैनिटाइज किया। इसके अलावा मुख्य रास्ते पर मॉडिफाइड टैंकर से सैनिटाइजर युक्त पानी का छिड़काव किया गया। छावनी परिषद के सीईओ सपन कुमार ने कहा कि यह मॉक ड्रिल का बेहतर साबित हुआ है। अभी 5 कर्मचारियों को इसमें शामिल किया गया है। उनके पास 50 सूट उपलब्ध है। अगर जरूरत पड़ी तो कर्मचारियों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी।

उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन जिस प्रकार मरीज को अस्पताल तक भर्ती कराने का मॉक ड्रिल कर रहा है, उसी प्रकार में उस प्रक्रिया को आगे बढ़ाकर गलियों, रास्ते और कोरोना के एक्टिव मरीज के मकान और कमरों को सैनिटाइज करने की प्रक्रिया दोहराई जा रही है। इस मौके पर छावनी परिषद के उपाध्यक्ष अनमोल सिंह के अलावा कई वार्डों के मुखिया मौजूद थे।

Next Story
Share it