Top
Action India

ग्रामीण क्षेत्रों में हटाये गये अतिक्रमण

ग्रामीण क्षेत्रों में हटाये गये अतिक्रमण
X

जगदलपुर। एएनएन (Action News Network)

जिले के बस्तर ब्लॉक के ग्राम पंचायत करन्दोला हॉस्पिटल चौक में रव‍िवार को अवैध अतिक्रमण हटाया गया। अधिकारियों ने बताया कि ऐसे कई मामले है, जिनका अवैध कब्जा के संबंध में शिकायत मिला है। उनका अवैध अतिक्रमण जल्द हटाया जायेगा। कई बार नोटिस देने के बावजूद भी अतिक्रमण करके शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा कर मकान बनाया गया है, इनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

भू-राजस्व में दिए गए प्रावधानों के अनुसार कोई भी सरकार कार्य करना नहीं चाहतीहै। यदि भू-राजस्व संहिता 1959 के प्रावधानों के अनुसार पट्टा का वितरणविधि अनुसार किया जाये तो अतिक्रमण की सारी परेशानी स्वत: ही समाप्त होजावेगी, लेकिन राजनैतिक घोषणाओं ने अतिक्रमणकारियों को अतिक्रमण के लिए आगे बढ़ाया है।इस कार्रवाई के बाद अतिक्रमण कर अवैध रूप से निर्माण करने वालों में हड़कंप मचा हुआ है।

राजस्व विभाग द्वारा अवैध कब्जा धारियों के मकान पर बुलडोजर चलाकर सख्त कार्रवाई की गई है। ग्रामीण क्षेत्रों में अतिक्रमण कर बड़े पैमाने पर बहार के लोगों के द्वारा भी यहां बसने लगे हैं, जिसकी शिकायत लगातार मिल रही है। वहीं वन भूमि पट्टा एवं अन्य शासन की योजनाओं के तहत पट्टा प्रदान किए जाने के परिपाटी ने अतिक्रमणकारियों को बड़े पैमाने पर अतिक्रमण कर मकान बनाकर रहने के लिए प्रेरित किया है।

जब तक तुष्टिकरण की वोट बैंक की राजनीति के लिए शासकीय एवं वनभूमि के पट्टे प्रदान करने का खेल चलता रहेगा तब तक अवैध अतिक्रमण के मामले और भी बढ़ेंगे। सबको यह पता है कि हर पांच साल में चुनाव के समय राजनैतिक दल पट्टा वितरण करेगी और अतिक्रमणकारियों को मुफ्त में जमीन मिल जायेगा। मुफ्त के खेल का दुष्परिणाम यह हो रहा है कि अब शासकीय कार्यों के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में जमीन नहीं मिल पा रही है।

Next Story
Share it