Top
Action India

सोशल मीडिया पर कहा 13 दिन से हूं भूखा, मौके पर बरामद हुआ मुफ्त का राशन

मंडी। एएनएन (Action News Network)

कोविड-19 की रोकथाम के दौरान जारी कफ्र्यू प्रदेश में कई हैरान कर देने वाले मामले सामने आए हैं। वहीं जिला मंडी के सुंदरनगर में जरूरतमंद के हक पर डाका डालने को लेकर एक मामला सामने आया है। मामले में एक प्रवासी शहनाथ मांझी द्वारा सोशल मीडिया फेसबुक के माध्यम से पिछले 13 दिनों से भूखा होने की गुहार लगाने के बाद उसके घर से प्रशासन द्वारा औचक निरक्षण कर मुफ्त राशन भरपूर मात्रा में बरामद किया गया है। एक तरफ जहां कोटेदारों की मनमानी से लोग परेशान हैं, वहीं ऐसी जमात भी सामने आ खड़ी हुई है, जिनकी रसोई खाद्यान्न से भरी है, पर गुहार भूखा पेट होने की लगाई जा रही है।

मौके पर चावल, आटा, दालें,तेल व नमक मिलने से अफवाह फैलाने वाले कुछ लोगों की भी कलई खुल गई है। वहीं इस मामले में सोशल मीडिया पर अफवाह फैैलने पर मामला भी पुलिस द्वारा दर्ज कर लिया गया है। हुआ यह कि सुंदरनगर की ग्राम पंंचायत भरजवाणू मेें प्रवासी बस्ती के एक परिवार द्वारा सोशल मीडिया द्वारा पिछले 13 दिनों से प्रशासन द्वारा राशन मुहैया करवाने और भूखे रहने को मजबूर होने का वीडियो वायरल किया था।

इस पर वीरवार को सुंदरनगर प्रशासन ने मौके पर पंचायत प्रतिनिधि सहित दस्तक देकर प्रवासी के घर को खंगाला गया तो घर के साथ मौजूद स्टोर से लगभग 15 किलोग्राम चावल, आटे की थैलियां, नमक और तेल बोरियों में छुपाया हुआ मिला। इस पर अधिकारियों द्वारा मौके पर मौजूद प्रवासी को कड़ी हिदायत दी गई।

वहीं प्रवासी द्वारा ठेकेदार, प्रशासन और अन्य समाजिक संगठनों द्वारा उसे मुफ्त राशन मुहैया करवाने की जानकारी दी गई। शरनाथ मांझी ने कहा कि उसे जो बोलने के लिए कहा गया उसने वही बोला और उसके पास राशन मौजूद है। वहीं मामले पर डीएसपी सुंदरनगर गुरबचन सिंह रणौत ने कहा कि मामले में अफवाह फैलाने को लेकर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है।

Next Story
Share it