Top
Action India

जिलाधिकारी ने 'फतेहपुर डिलीवरी ऐप्स' को किया लांंच, घर तक पहुंचेगा राशन

जिलाधिकारी ने फतेहपुर डिलीवरी ऐप्स को किया लांंच, घर तक पहुंचेगा राशन
X

  • गूगल प्ले स्टोर से ऐप्स करें डाऊनलोड घर बैठे राशन सामग्री मँगाये

  • बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के नजदीकी दुकान चुन कर ऐप्स से करें आर्डर

फतेहपुर । एएनएन (Action News Network)

लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग के पालन में जनता की समस्याओं के समाधान के लिए मंगलवार को जिला प्रशासन ने "फतेहपुर डिलीवरी ऐप्स" नाम से एक ऑनलाइन मार्केटिंग ऐप्स लांच किया है। जिसके माध्यम से अब राशन सामग्री घर-घर पहुँचेगी। जरूरत के सामान की लिस्ट बनाकर ऐप्स के माध्यम से अपने नजदीकी दुकान को चुन कर अपना आर्डर भेजिये और घर बैठे बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के अपना सामान घर पर मँगाना आसान हो गया है। जिले में लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन की मिल रही तमाम शिकायतों के समाधान के लिए जिलाधिकारी संजीव सिंह ने फतेहपुर नगर पालिका परिषद के निवासियों के लिए "फतेहपुर डिलीवरी ऐप्स" लांच किया है।

जानकारी देते हुए जिलाधिकारी संजीव सिंह ने बताया कि लॉकडाउन लागू होने के बाद से देखा गया कि आवश्यक राशन की दुकानों में सामान लेने के लिए अक्सर भीड़ लग जाती है। जिससे लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन होता रहता है और कोरोना के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। राशन के लिए घर से बाहर निकलने वालों की मजबूरी को ध्यान में रखते हुए यह "फतेहपुर डिलीवरी ऐप्स" लांच किया गया है। इस ऐप्स के माध्यम से पहले शहर क्षेत्र को सुविधा मुहैया कराई जायेगी। यदि यह प्रयास सफल रहा तो इसे सम्पूर्ण जनपद में विस्तार दिया जायेगा।
उन्होंने ऐप्स के प्रयोग को बताते हुए कहा कि इस ऐप्स को सर्वप्रथम गूगल प्ले स्टोर से अपने मोबाइल में लाउनलोड करना है।

ऐप्स को मोबाइल में स्टॉल करने के बाद राशन से सम्बंधित अपनी लिस्ट को इस ऐप्स में दर्ज कर अपनी नजदीक की दुकान में आर्डर को सेन्ड कर देना है। दुकानदार आपना सामान बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के आपके घर पहुँचा देगा। उन्होंने ऐप्स के फायदे पर प्रकाश डालते हुए कहा कि कोरोना के चलते जब तक लॉकडाउन लागू रहेगा, तब तक किसी को बाहर न निकलना पड़े, इस बात का जितना ध्यान आम जनता को रखना जरूरी है। प्रशासन का भी दायित्व है कि आम जनता की समस्याओं को समाधान घर पर उपलब्ध कराया जाय। जिससे लोग घर पर रहें और अनावश्यक रूप से बाहर न निकलें। वहीं सोशल डिस्टेंसिंग से कोरोना के संक्रमण का खतरा भी ऐप्स के लांच होने के बाद कम होगा।

ऐप्स लांच होने से खुश व्यापार उद्योग मण्डल के संस्थापक अध्यक्ष किशन महरोत्रा का मानना है कि जिला प्रशासन की इस पहल से लोगों को लॉकडाउन पालन में सुविधा होगी। बाहर निकलने पर पुलिस का अनावश्यक कोपभाजन नहीं बनना पडेगा। सबसे बड़ी बात कोरोना के खिलाफ सरकार, प्रशासन व आमजनता की सामूहिक जंग जीतने में सहयोग मिलेगा। इस ऐप्स के माध्यम से जब जनता का राशन घर तक पहुँच जायेगा तो फिर लोग सड़कों में कम नजर आयेंगे। इस तरह हम सब कोरोना के खिलाफ जंग में शीघ्र सफल होंगे।

Next Story
Share it