Top
Action India

कोरोना लाॅकडाउन के बीच आग का कहर, सात मकान, दो मंदिर राख, जिंदा जली वृद्वा

कोरोना लाॅकडाउन के बीच आग का कहर, सात मकान, दो मंदिर राख, जिंदा जली वृद्वा
X

शिमला । एएनएन (Action News Network)

लाॅकडाउन के बीच रविवार को शिमला जिले की चिड़गांव तहसील के ढुगियाणी गांव में भीषण आग लगने से भारी नुकसान हुआ। सात मकान और दो मंदिर जलकर राख हो गए। इस आगजनी में 80 साल की एक वृद्व महिला की जिंदा जलकर मौत हो गई। आग इतनी विकराल थी कि दमकल विभाग व राहत दलों को इस पर काबू पाने में कई घंटे लग गए। आग लगने के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है।

रविवार सुबह दस बजे गांव ढुगियाणी में नरैण सिंह के लकड़ी के रिहायशी मकान में अचानक आग भड़क गई। आग तीव्रता के साथ फैली और इसने बगल में रहने वाले मकानों को भी चपेट में ले लिया। ईश्वर सिंह का मकान भी आग की जद में आया और ईश्वर सिंह की माता सोधा मणी मकान में फंस गई। बचाव अभियान में लगे लोगों ने वृद्वा को निकालने की कोशिश की, लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुकी थी।

रोहड़ू के एसडीएम बी.आर. शर्मा ने बताया कि दमकल विभाग की चार गाड़ियों से भंयकर आग पर दोपहर तक काबू पाया जा सका। उन्होंने कहा कि अग्निकांड में सात मकान और दो स्थानीय मंदिर राख हो गए हैं, वहीं वयोवृद्व महिला की मौत हो गई।उन्होंने कहा कि इस घटना में नरैण सिंह, ईश्वर सिंह, मतवर सिंह, जगदीश, सरदार सिंह, सुंदर सिंह और गुलाब सिंह के मकान राख हुए हैं।

इसके अलावा गांव के दो मंदिर भी राख में तबदील हो गए। आगजनी में 14 लोग प्रभावित हुए हैं। इनको हुए नुकसान का आंकलन किया जा रहा है। इन्हें निर्धारित मापदंडों के अनुसार राहत राशि दी जाएगी। साथ ही इनके रहने का भी प्रबंध किया जाएगा।रोहड़ू के डीएसपी सुनील नेगी ने बताया कि आग लगने के कारणों की पड़ताल की जा रही है तथा मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरु कर दी गई है।

Next Story
Share it