Select Page

परीक्षा पर चर्चा का फोकस तनाव मुक्त एग्जाम: कश्यप

परीक्षा पर चर्चा का फोकस तनाव मुक्त एग्जाम: कश्यप

नाहन/एसपी जैरथ
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद सुरेश कश्यप ने कहा कि 27 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के एग्जाम वॉरियर्स यानी जो बच्चे आने वाली परीक्षा में इम्तिहान देने वाले हैं उन को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री इन वॉरियर्स को सफलता के कुछ गुरु मंत्र प्रदान करेंगे जिससे उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा। कश्यप ने कहा कि परीक्षा पे चर्चा 2023 को केंद्र सरकार और भाजपा एक पर्व के रूप में मना रही है, परीक्षा से होने वाले तनाव को कम करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी परीक्षार्थियों के साथ चर्चा भी करेंगे। इस उपलक्ष में आज पूरे प्रदेश भर में अनेकों कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें आहट एंड पेंटिंग कंपटीशन का आयोजन भी किया गया। हिमाचल में 36 स्थानों पर इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सभी स्कूलों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एग्जाम वॉरियर्स नाम की पुस्तिका का भी वितरण बड़ी संख्या में किया गया। पूरे प्रदेश में अनेकों स्थानों पर बच्चों ने इस आर्ट और पेंटिंग कंपटीशन में भाग लिया जिसमें बच्चे प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान पर आए और अनेकों बच्चों को कंसोलेशन पुरस्कार भी दिए गया। इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण वर्चुअल, रेडियो, नमो एप, यूट्यूब, फेसबुक और टेलीविजन के माध्यम से 27 जनवरी 2023 को 11 बजे होने जा रहा है। प्रधानमंत्री दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से जुड़ेंगे। उन्होंने बताया इस कार्यक्रम की शुरूआत साल 2018 में हुई थी, जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम के तहत छात्रों, शिक्षकों अभिभावकों के साथ संवाद किया था।


इसके बाद हर साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी परीक्षा पर चर्चा करते हैं, इस दौरान मोदी छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के साथ सीधा संवाद करते हैं। कश्यप ने कहा कि बच्चे एग्जाम को तनावपूर्ण स्थिति में देते हैं, देश के प्रधानमंत्री का मानना है कि हमें एक्जाम को बिना तनाव के देना चाहिए। हमें पूरी लगन के साथ पढ़ाई करनी चाहिए और उसके बाद परीक्षा को पूरे आत्मविश्वास के साथ देना चाहिए। परीक्षा का परिणाम जो भी हो हमें शिक्षा ग्रहण करने के तरीके पर फोकस रखना चाहिए, जब हम एक शिक्षा ग्रहण करते हैं वह आने वाली जिंदगी में हमें बहुत काम आती है। केवल प्रतिस्पदा ही सब कुछ नहीं होता, हमें शिक्षा को अपने जीवन का भाग बनाना चाहिए। भारत नए भारत बनने की ओर अग्रसर हो रहा है, जिसमें शिक्षा से स्वावलंबन तक अनेकों प्रकार के रस्ते खुलेंगे भारत में सभी बच्चों का भविष्य सुरक्षित है। इसी उपलक्ष में प्रदेश में अनेकों सरकारी स्कूलों में भी कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिसमें जीएसएस नहान में भी एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया इसमें पेंटिंग कंपटीशन के तहत प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान पर सुंदराम, देवेश और उवैस आए और 16 बच्चों को कंसोलेशन पुरस्कार मिले।
एसएमएल-02

Advertisement

Advertisement