Top
Action India

वनमंत्री दारा सिंह ने इटावा लायन सफारी पार्क का किया उद्घाटन

वनमंत्री दारा सिंह ने इटावा लायन सफारी पार्क का किया उद्घाटन
X

Highlights

  • शेर और शेरनी की संख्या पूरी न होने से लायन सफारी को अभी जनता के लिए नहीं खोला गया
  • सफारी में इस समय 65 काले हिरण, 42 हिरण, 14 साम्भर और तीन भालू मौजूद
  • सफारी में घूमने के लिए टिकट का मूल्य दो सौ रुपये निर्धारित किया गया

इटावा। एएनएन (Action News Network)

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट लायन सफारी का रविवार को सूबे के वन मंत्री दारा सिंह चौहान ने उद्घाटन करके पर्यटकों के लिए खोल दिया लेकिन आम जनता को 25 नवम्बर से सफारी में प्रवेश मिलेगा। हालांकि आज उद्घाटन के दिन ही सफारी पार्क में घूमने के लिए लोगों की अच्छी खासी भीड़ दिखाई दी। सफारी में घूमने के लिए टिकट का मूल्य दो सौ रुपये निर्धारित किया गया है।

उद्घाटन के दौरान मंत्री के साथ अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष रामशंकर कठेरिया और भाजपा की दोनों विधायक सरिता भदौरिया और सावित्री कठेरिया मौजूद रहीं। सफारी पार्क के डायरेक्टर डॉक्टर वीके सिंह ने बताया कि 350 हेक्टेयर में फैले सफारी पार्क में डियर, बियर और एंटीलूप सफारी को अभी जनता के लिए खोला गया है।

सफारी में शेरों के दीदार के लिए जनता को अभी और समय का इंतजार करना पड़ सकता है। नेशनल जू अथॉरिटी के मानक अनुसार सफारी में शेर और शेरनी की संख्या पूरी न हो पाने के कारण लायन सफारी को अभी जनता के लिए नहीं खोला गया है। सफारी में इस समय 65 काले हिरण, 42 हिरण, 14 साम्भर और तीन भालू मौजूद है, जिनके दीदार जनता कर पायेगी।

वन मंत्री दारा सिंह ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में ईको टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए काम कर रहे हैं। इसी क्रम में इटावा में बने सफारी पार्क को भी योगी सरकार ने जनता के लिए खोल दिया है। देश और विदेश के पर्यटक आकर सफारी में वन्यजीवो के दीदार कर सकेंगे।

पूर्व सीएम अखिलेश यादव को धन्यवाद देते हुए वन मंत्री ने कहा कि अखिलेश यादव ने भी प्रदेश में टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए सफारी पार्क को बनवाया था। उद्घाटन कार्यक्रम में अखिलेश यादव के न आने के सवाल पर वन मंत्री ने कहा कि नेता हैं कहीं व्यस्त होंगे, इस कारण नहीं आ पाए होंगे।

350 एकड़ में फैला है सफारी पार्क
लॉयन सफारी पार्क 350 एकड़ में फैला है। ये अंतरराष्ट्रीय मानक पर दुर्लभ प्रजाति के बब्बर शेरों के संरक्षण और प्रजनन के लिए यहां स्थापित किया गया है। यह ड्रीम प्रॉजेक्ट समाजवादी नेता मुलायम सिंह यादव का है। उन्होंने 2007 में इसे अपने मुख्यमंत्रित्व काल में शुरू किया था। इसके बाद बीएसपी सरकार ने इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया। 2012 में जब राज्य में समाजवादी पार्टी की सरकार बनी तो मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने पिता के इस ड्रीम प्रॉजेक्ट को पूरे जोर-शोर से शुरू किया। गुजरात से यहां शेर लाए गए।

तमाम कोशिशों के बावजूद नहीं खुला लॉयन सफारी
हालांकि पूरी तैयारी के बावजूद मानक पर खरा न उतरने की वजह यह खुल नहीं पाया। इस वजह से अखिलेश यादव तमाम कोशिशों के बावजूद भी इसका उद्घाटन नहीं कर सके थे। पिछली बार जब सीएम योगी आदित्यनाथ इटावा दौरे पर आए तो उन्होंने तमाम योजनाओं के संग नुमाइश पांडाल में ही लॉयन सफारी का उद्घाटन कर दिया। दुर्भाग्य यह रहा कि उद्घाटन के बाद भी लॉयन सफारी खोला नहीं गया।

दो सौ रुपए में मिलेगा टिकट
सफारी पार्क में प्रवेश के लिए दो सौ रुपए का टिकट रखा गया है। यहां पर्यटक अभी शेरों का दीदार नहीं कर पाएंगे। पर्यटकों के लिए अभी केवल डियर बियर और एन्टीलूप सफारी खोली गई है। सफारी में 4डी पिक्चर हॉल में सफारी से सम्बंधित मूवी दिखाई जाएगी।

Next Story
Share it