Action India
अन्य राज्य

बिना लाइसेंस के कूड़े से भरा ट्रेक्टर चलाना पूर्व सांसद पप्पू यादव को पड़ा महंगा

बिना लाइसेंस के कूड़े से भरा ट्रेक्टर चलाना पूर्व सांसद पप्पू यादव को पड़ा महंगा
X

नई दिल्ली, ब्यूरो | कानून सबके लिए एक होता है, लेकिन कुछ नेता

विकास या कार्य करने के दिखावे में ये भूल जाते हैं कि कहीं वे कानून का उलंघन तो नहीं

कर रहे। इसे में उनको उनका ही कार्य महंगा पड़ जाता है। ठीक ऐसा ही जन अधिकार

पार्टी के नेता राजेश रंजन उर्फ़ पप्पू यादव जो कि पूर्व सांसद भी रह चुके हैं,

इसके साथ हुआ है। पप्पू यादव बिना वैध लाइसेंस के कूड़े से भरा ट्रेक्टर चला रहे थे

जिसके लिए उनको भारी जुर्माना भरना पड़ा। पुलिस का कहना है कि पप्पू यादव ने एक

मंत्री को उसके घर के सामने कूड़ा फेकने की धमकी दी थी। इसके ऊपर पप्पू यादव ने

बयान देते हुए कहा कि यह एक प्रदर्शन है जो कि पटना में आई बाढ़ और जलभराव के बाद

होने वाली बीमारियों के ऊपर राज्य सरकार की असफलता के लिए था।

प्रदर्शन तो अपनी जगह सही है लेकिन पुलिस ने उनको बिना लाइसेंस के

वाहन चलाते हुए पकड़ दिया। इसके बाद पप्पू यादव के ऊपर 5000 का जुर्माना लगाया गया।

पप्पू यादव ने कहा कि 'मुझे विरोध दर्ज कराने के मौलिक अधिकारों से वंचित किया गया। मेरे

पास लाइसेंस है लेकिन बहुत ही कमजोर आधार पर चालान किया गया कि मैं भारी वाहन

चलाने की अर्हता नहीं रखता।' सरकार की प्राथमिकताओं को गलत ठहराते हुए

पप्पू यादव ने कहा कि सरकार केवल विज्ञापनों के ऊपर जमकर खर्चे कर रही है, लेकिन

विकास के नाम पर कुछ भी नहीं कर रही।

Next Story
Share it