Top
Action India

कुंए में ऑक्सीजन की कमी से चार व्यक्तियों की मौत

कुंए में ऑक्सीजन की कमी से चार व्यक्तियों की मौत
X

इटानगर । एएनएन (Action News Network)

कुंए की खुदाई करने के दौरान ऑक्सीन की कमी के चलते चार व्यक्तियों की मौत हो गई। यह घटना अरुणाचल प्रदेश के पापुम पारे जिला के दुरपंग गांव में मंगलवार को घटी। मृतकों की पहचान टेसा कोजूम (24, चेसा गांव, अरुणाचल), मणि कुमार देउरी (37, देरगांव, असम), अजय चकमा (28) और सुकराजू चकमा (48) के रूप में हुई।

12वीं एनडीआरएफ के अधिकारी पीएन सिंह ने बताया कि मंगलवार सुबह 10 बजे कुंए की खुदाई व सफाई के दौरान यह घटना घटी। सूचना मिलते ही मौक पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम ने दो व्यक्तियों के शवों को बाहर निकाल लिया। जबकि दो शवों को देर रात 11 बजे के आसपास एनडीआरएफ की टीम ने बाहर निकाला।

सूत्रों ने बताया कि कुंए की गहराई को बढ़ाने के लिए काम कर रहे मणि कुमार देवरी कुएं के अंदर ऑक्सीजन की कमी के कारण बेहोश हो गया। उसे कुंए में हांफते देखकर लोग घबरा गए और मदद के लिए चिल्लाना शुरू कर दिया। इस बीच टेकी गालो के भाई टेकी कोजुम मणि कुमार को बचाने के लिए कुएं में उतरा तो वह भी बेहोश हो गया।

घटना की जानकारी मिलते ही आसपास के लोग एकत्र होकर राहत व बचाव कार्य चलाने में जुट गए। इस बीच अजय चकमा अपनी मर्जी से रस्सी की मदद से कुएं में उतरा लेकिन वह भी बेहोश हो गया और बाहर नहीं आ सका। अजय चकमा को बेहोश होते देख उसके पिता सुकराजू चकमा अजय और दो अन्य को बचाने के लिए रस्सी की मदद से कुंए में उतर गए लेकिन वह भी कुंए में बेहोश हो गए।

राहत व बचाव अभियान को अंजाम देने के लिए असम के नारायणपुर पुलिस स्टेशन से एसडीआरएफ की टीम को बुलाया गया। टीम ने बताया कि सभी मौतों का कारण कुंए के अंदर ऑक्सीजन की कमी थी। हालांकि दो शवों को एसडीआरएफ की टीम ने बाहर निकाल लिया लेकिन दो शव मिट्टी में पूरी तरह से धंस गया था, जिसको बाहर निकालना मुश्किल हो गया।

इसके बाद 12वीं एनडीआरएफ की टीम को बुलाया गया। मौके पर पहुंची एनडीआरएफ की टीम राहत व बचाव कार्य में जुट गई। कुंए के चारों और जेसीबी से लगभग 20 फुट की खुदाई कर दो और शवों को रात 11 बजे के आसपास बाहर निकाला गया। इस घटना से इलाके में शोक की लहर दौड़ गई है। पुलिस ने इस संबंध में एक प्राथमिक दर्ज कर लिया है।

Next Story
Share it