Top
Action India

पहले शिकायत करता था फिर वापस लेने वाले शख्श को जिलाधिकारी ने किया ब्लैक लिस्ट

  • भविष्य में उसकी शिकायत पर संज्ञान न लेने के निर्देश

गाजियाबाद। एएनएन (Action News Network)

जिला प्रशासन के कलेक्ट्रेट में लगाए गए ब्लैक्स बॉक्स के जरिए प्राप्त शिकायत में रविवार एक ऐसा मामला प्रकाश में आया है जिसमें एक व्यक्ति पहले कर्मचारियों की शिकायत करता है और बाद में साठगांठ करके समझौता कर लेता था। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने सतवीर नाम के इस व्यक्ति को ब्लैक लिस्ट करते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे भविष्य में सतवीर द्वारा की गई किसी शिकायत का संज्ञान ना लें।

जिलाधिकारी ने रविवार को बताया कि ब्लैक बॉक्स के माध्यम से एक शिकायत मिली थी जिसमें कहा गया था कि राजस्व अभिलेख विभाग में पिछले दो महीनों से काम नहीं हो रहा है और नकल सवाल का कार्य भी बाधित है । इतना ही नहीं यह भी शिकायत मिली थी कि गुप्त रूप से सरकारी अभिलेखों मुआयना कराया जा रहा है। उन्होंने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए जांच एसडीएम तृतीय देवेंद्र पाल सिंह को सौंपी।

देवेंद्र पाल ने जांच करते हुए पाया कि पूर्व में एक महिला पर रिश्वत लेने का आरोप लगा था और उस को निलंबित कर दिया गया था, साथ ही राजस्व अभिलेखागार का समस्त स्टॉफ भी बदल दिया गया था । इस मामले में जब शिकायतकर्ता सतवीर सिंह से जानकारी ली गई उसने कहा कि वह अभिलेखागार में नई व्यवस्था से तो खुश है, लेकिन कर्मचारी को कोई दंड देने के देना नहीं चाहता और अपनी शिकायत वापस लेना चाहता है।

एसडीएम की जांच रिपोर्ट मिलने के बाद जिलाधिकारी ने आदेश दिए कि इस व्यक्ति की भविष्य में कोई शिकायत का संज्ञान ना लिया जाए ।यह आदमी कर्मचारियों से सांठगांठ करके पहले शिकायत करता है और फिर शिकायतों को समझौता करके वापस ले लेता है।

Next Story
Share it