Action India
अन्य राज्य

चित्रकूट में मरे मुंबई के सिक्योरटी गार्ड की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकलने से हड़कंप

चित्रकूट में मरे मुंबई के सिक्योरटी गार्ड की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकलने से हड़कंप
X

  • बीती रविवार को मुंबई से चित्रकूट के सरैयां गांव आया था गार्ड

  • परिजनों के नमूने सील कर प्रशासन ने हॉट स्पॉट किया घोषित

चित्रकूट । एएनएन (Action News Network)

बीमार हालत में बीती रविवार को निजी एम्बुलेंस से मुम्बई से चित्रकूट जिले के सरैंया स्थित अपने घर आये सिक्योरिटी गार्ड की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत हो गई थी। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा मृतक गार्ड का सैम्पल लेकर जांच के लिए प्रयागराज मेडिकल कालेज भेजा गया था । मंगलवार को आई रिपोर्ट में मृतक गार्ड के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि होने से पूरे जिले मेें हडकंप मचा हुआ है। जनपद में कोरोना महामारी से यह पहली मौत है।मिली जानकारी के मुताबिक जिले के मानिकपुर तहसील क्षेत्र के सरैया गांव निवासी वृहस्पति (20) बीती रविवार को सुबह एंबुलेंस के जरिए मुंबई से लाया गया था। जिसे सीएचसी शिवरामपुर ले जाया गया। वहां पर उसकी थर्मल स्क्रीनिंग के बाद डॉक्टरों ने वापस कर दिया। घर वाले उसे लेकर वापस गांव चले गये थे।

उसी दिन शाम करीब चार बजे उसने दम तोड़ दिया। बीमारी हालत में उसकी मौत होने की जानकारी जैसे ही गांव के लोगों को हुई, वह दहशत में आ गये थे। इसकी जानकारी प्रशासन को दी गई थी।जिसके बाद मौके पर पहुंचे पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने शव के पास किसी को जाने नहीं दिया था। मानिकपुर के एसडीएम संगमलाल गुप्ता के बुलावे पर मौके पर पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मृतक गार्ड का सैंपल लेकर जांच के लिए प्रयागराज मेडिकल कालेज भेजा था। मंगलवार सुबह युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद पूरे जिले में हड़कंप मच गया। जनपद में हुई कोरोना से पहली मौत के बाद जिला प्रशासन भी सतर्क हो गया है। सीएमओ डा0विनोद कुमार यादव ने बताया कि दरअसल मौत चित्रकूट जिले के सरैंया गांव में ही हुई है। इसलिए कोरोना वायरस की मौत की श्रेणी में इसे रखा जाएगा। इसके अलावा सतर्कता को दृष्टिगत रख मृतक गार्ड के परिजनों के सैम्पल लेकर जांच के लिए भेजने के साथ-साथ जिले के मानिकपुर तहसील क्षेत्र के सरैंया गांव को भी पूरी तरह से सील किया जा रहा है।

Next Story
Share it