Top
Action India

गौसेवक बोले, गौमाता की रक्षा से देश में एक बार फिर बहेगी 'दूध की नदियां'

गौसेवक बोले, गौमाता की रक्षा से देश में एक बार फिर बहेगी दूध की नदियां
X

  • छुट्टा जानवरों से किसान परेशान

सुल्तानपुर । एएनएन (Action News Network)

गौ हत्या पर कड़े कानून लागू होने के बाद गाय तस्करों पर नकेल कसने की एक बड़ी पहल योगी सरकार ने की है। गौपाल को इसके कारण खुशी है। गौमाता की रक्षा से देश में एक बार फिर दूध की नदियां बहेगी।

पिछले दिनों योगी सरकार ने पूरे प्रदेश में गोवंश हत्या पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया था, इसके बावजूद भी जिले में चोरी-छिपे गौ तस्करी का धंधा बंद होने का नाम नहीं ले रहा था। अभी हाल ही में जिले में कई गौ तस्कर गिरफ्तार हुए थे।

यहां तक की एक मारुति कार में भी तीन गौवंश को ले जाते हुए पुलिस ने गिरफ्तार किया था। वही दूसरी तरफ महीने भर पहले नहर के किनारे पांच गौवंश के सिर मिले थे। सरकार गो वंश की हत्या पर लगाए गए कड़े कानून से तस्करी से जुड़े व्यापारियों में हड़कंप मच गया है। पशुपालकों के लिए अब आसान होगा कि उन्हें सस्ते दामों पर गाय उपलब्ध होंगी और दूध की धारा बहेगी।

गौ रक्षक प्रेमी डॉ रामजी गुप्ता ने कहा कि योगी सरकार इस सख्त कानून से अब 10 साल की सजा एवं पांच लाख के जुर्माने से नकेल कसी जा सकती है। ग्राम भारती परतोष धंमौर के छात्रावास अधीक्षक रमाकांत त्रिपाठी गौशाला की सेवा में लगे हुए हैं। सरकार के कड़े फैसले का श्री त्रिपाठी ने स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार का हर कार्य प्रशंसनीय है। गौ माता की रक्षा से देश की समृद्धि बढ़ेगी।

योगी सरकार ने हमारी संस्कृति की रक्षा की

किसान कृपाशंकर श्रीवास्तव ने बताया कि गाय हमारी माता है यह तो हम बचपन से पढ़ते आ रहे हैं, पर गाय की रक्षा के लिए अभी तक कोई भी सरकार इतना कड़ा कानून नहीं बना पायी है। मुख्यमंत्री योगी को धन्यवाद देता हूं उन्होंने हमारी संस्कृति की रक्षा की है।

छुट्टा जानवरों से हो रही है फसल बर्बाद

कई किसानों सहित अवधेश यादव का कहना है कि पहले तो केवल नीलगाय ही परेशान करते थे। अब तो छुट्टा जानवरों से सारी फसल बर्बाद हो रही हैं। चाहे जितना सुरक्षा कर लो। बेड़ा तोड़कर झुंड के झुंड खेतों में घुसकर फसल खा जाते हैं। उन्होंने कहा कि योगी सरकार को इसका भी समाधान करना चाहिए।

Next Story
Share it