Top
Action India

गुलाम नबी आजाद ने श्रीनगर का अपना सरकारी आवास किया खाली

गुलाम नबी आजाद ने श्रीनगर का अपना सरकारी आवास किया खाली
X

श्रीनगऱ। एआईएन

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने व केंद्र शासित प्रदेश बनने का असर दिखने लगा है। अब जम्मू कश्मीर के सभी राजनेताओं को आवंटित किए गए सरकारी बंगले खाली करने होंगे। इसी के चलते कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने मंगलवार को स्वयं ही श्रीनगर के वीवीआईपी जोन में मिले सरकारी आवास को खाली कर दिया। श्रीनगर के गुपकर रोड पर स्थित जम्मू-कश्मीर बैंक का गेस्ट हाउस पूर्व मुख्यमंत्री आजाद को दिया गया था, जो आज उन्होंने लौटा दिया है।

31 अक्टूबर को औपचारिक तौर पर जम्मू कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश बनते ही यहां के लोग व राजनेता सीधे तौर पर सुप्रीम कोर्ट के दायरे में आ जाएंगे। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री या फिर राजनेता जो किसी संवैधानिक पद पर रहते हैं, उनका सरकारी बंगलों पर जीवन भर के लिए कोई अधिकार नहीं है।

इस आदेश के अनुसार भारत सरकार उन्हें सरकारी बंगले खाली करने का आदेश दे सकती है। इसके अलावा उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती दोनों के पास अभी भी सरकारी बंगलों हैं, जो कि उन्हें खाली करने हैं।

Next Story
Share it