Top
Action India

बाहर से आ रहे लोगों को शहर में प्रवेश करते ही भोजन करा रहे समाजसेवी

बाहर से आ रहे लोगों को शहर में प्रवेश करते ही भोजन करा रहे  समाजसेवी
X

  • सुबह बच्चों को फल, बिस्किट व पानी तो दोपहर में लोगों की दी जा रही खिचड़ी

  • संकट की घड़ी में जरूरतमंदों की सेवा करना ही सच्ची नारायण सेवा

गोपालगंज। एएनएन (Action News Network)

अपने लिए तो सब ही जीते हैं, लेकिन इस संकट की घड़ी में जरूरतमंदों के लिए सहायता पहुंचना ही सच्चे अर्थों में नारायण की सेवा है। इस समय शहर की करीब एक दर्जन से अधिक जगहों पर कुछ समाजसेवी सुबह से लेकर शाम तक हर जरूरत मंद को न केवल भोजन बल्कि राशन, पानी भी उपलब्ध करवा रहे हैं। लॉकडाउन के चलते 2 दिन से शहर में बड़ी संख्या में लोग पैदल एवं वाहनों से प्रदेश के अलावा दूसरे प्रदेशों से एनएच 28 के रास्ते शहर में पहुंच रहे हैंं या फिर यहां से होकर अन्य शहर के लिए जा रहे हैं।

परेशानियों के बीच निकल रहे लोगों एवं शहर में फंसे बड़ी संख्या में लोगों के भोजन का इंतजाम कई समाज सेवियों के द्वारा कराया जा रहा है। इसमें पत्रकारिता के क्षेत्र में रहे लोगों ने चढ़- बढ़ कर हिस्सा लिया। समाज मे ऐसे लोगों की जरूरत है जो अपनी परवाह किये बिना जरूरतमंदोंं की सेवा में आगे रहते है। ये दो दिनों से सुबह फल, बिस्किट व पानी देकर बाहर से आने वाले को विदा करते हैंं। दिल्ली,पंजाब,हरियाण,यूपी की ओर से बड़ी संख्या आ रहे लोगों के लिए समाजसेवियों ने फल, बिस्किट व पानी की व्यवस्था की है।

वे हर आने वाले को सामान दे रहे हैं। दिल्ली में ऑटो चलाने वाला विकास कुमार अपने ऑटो पर परिवार को लेकर समस्तीपुर जाने के क्रम में बंजारी चौक पर रुका वहां बांटी जा रही सामग्री ली। उसने बताया कि दो दिनों से वे भूखे हैंं। रोहतक सै पिकअप पर सवार हो 16 बच्चों के साथ पहुंचे 23 लोगों को समाज सेवियों ने खिचड़ी खिलाई ।ये लोग मोतिहारी जिले के रुकुनीपुर गांव जा रहे थे।उनलोगों ने बताया कि इस क्षेत्र में पहुंचने के बाद अब जान में जान आई।उन्होंने बताया कि वह रोहतक से रविवार को सुबह 39 लोगों के साथ भूखे प्यासे निकले थे।

दूसरे दिन 2 बजे यहां पहुंचे हैंं। अब वह अपने गांव मंगलपुर पुल के रास्ते देर शाम तक पहुंच जाएंंगे। इसके अलावा बंटी मिश्र,सुनील कुमार मिश्र, नवल उपाध्याय, माेहन पाल, संतोष कुमार पाल, गुड्डन चौबे, पार्षद चंन्द्रमाेहन पांडेय,पत्रकार अभिजीत कुमार सहित जन सहयोग से करीब 1500 लोगों के भोजन का इंतजाम किया गया। उन्होंने बताया कि जन सहयोग के लिए बड़ी संख्या में लोग आ रहे हैंं ।

Next Story
Share it