Action India
अन्य राज्य

मानसून से पहले सभी विभागों काे जरूरी व्यवस्था करने के निर्देश

मानसून से पहले सभी विभागों काे जरूरी व्यवस्था करने के निर्देश
X

  • डीएम ने वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से अधिकारियों के साथ की बैठक

गोपेश्वर । एएनएन (Action News Network)

मानसून सत्र से पूर्व विभिन्न व्यवस्थाओं को लेकर जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने बुधवार को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला एवं तहसील स्तरीय अधिकारियों की बैठक ली। जिलाधिकारी ने सभी विभागों को मानसून से पूर्व जिले में समस्त व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिए। कहा कि मानसून सत्र में किसी भी आपदा के दौरान जिला एवं तहसील स्तरों पर गठित आईआरएस के तहत राहत एवं बचाव कार्यों का सुव्यवस्थित ढंग से संचालित किया जाए।

जिलाधिकारी ने सभी विभागों को मानसून से पूर्व अपनी कार्य योजना तैयार करने, तहसील, ब्लाक एवं ग्राम पंचायतों में उपलब्ध संसाधनों की सूची उपलब्ध कराने और सभी तहसीलों में 15 जून से कंट्रोल रूम स्थापित कर सप्ताह के सातों दिन और 24 घंटे कन्ट्रोल रूम संचालन करने के निर्देश दिए। ताकि मानसून सत्र में आपदा के दौरान किसी प्रकार की समस्या न हो। उन्होंने सभी एसडीएम को अपने क्षेत्र में स्वयं व्यवस्थाओं का निरीक्षण कर रिपोर्ट देने को कहा। उन्होंने सभी विभागों को मानसून सत्र के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त करते हुए उनकी नाम, नम्बर सहित सूची जिला आपदा कन्ट्रोल रूम को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए और पुलिस प्रशासन को सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करते हुए एसडीआरएफ तैनात रखने को कहा है।

तहसील स्तर पर तैयारियों को परखने के लिए सभी एसडीएम को 10 जून तक औचक माॅकड्रिल करने के भी निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी ने सभी सड़क निर्माणदायी संस्थाओं को सड़कों पर चिन्हित स्लाइड जोन के आसपास जेसीबी मशीन एवं पर्याप्त संख्या में मैनपावर की तैनाती के लिए प्लान तैयार करने तथा जेसीबी ऑपरेटर, जेई, एई के फोन नम्बर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए, ताकि मार्ग अवरुद्ध होने पर तत्काल संबंधित से संपर्क किया जा सके। एनएच और बीआरओ को कटिंग से बने संकरे सड़क मार्गों का शीघ्र चौडीकरण करने को कहा गया। वन, लोनिवि व जिला पंचायत को सभी संवेदनशील स्थलों के आसपास के वैकल्पिक पैदल मार्ग को दुरूस्त रखने के निर्देश दिए। जिला पूर्ति अधिकारी को मानसून अवधि के लिए आगामी तीन माह का खाद्यान्न एवं ईंधन का पर्याप्त भण्डारण रखने के निर्देश दिए गए।

डीएम ने सीएमओ को सभी प्राइवेट व सरकारी अस्पतालों में चिकित्सकों की तैनाती के साथ आवश्यक स्वास्थ्य सुविधाएं रखने तथा पर्याप्त मात्रा में दवाइयों का स्टाॅक रखने के निर्देश दिए। मानसून सत्र के दौरान गर्भवती महिलाओं को डिलीवरी के समय से एक सप्ताह पहले ही अस्पताल में भर्ती करने को कहा गया। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को भी दवाइयों एवं पशु चारे का पर्याप्त स्टाॅक रखने को कहा गया। उन्होंने जल निगम, जल संस्थान, विद्युत एवं दूरसंचार विभागों को भी मानसून सत्र से पहले अपनी सेवाएं सुचारू रखने के लिए तत्काल आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान, सीडीओ हसांदत्त पांडे, एडीएम एमएस बर्निया, सीएमओ डाॅ. केके सिंह आदि मौजूद थे।

Next Story
Share it