Action India
हरियाणा

जींद : आंगनबाड़ी वर्कर एवं हैल्पर यूनियन ने मांगों को लेकर दी गिरफ्तारी

जींद : आंगनबाड़ी वर्कर एवं हैल्पर यूनियन ने मांगों को लेकर दी गिरफ्तारी
X

जींद। एक्शन इंडिया न्यूज़

आंगनबाड़ी वर्कर एवं हैल्पर यूनियन एवं स्टेट तालमेल कमेटी के आह्वान पर आंगनवाड़ी वर्कर्स, हैल्पर्स ने मांगों को लेकर बुधवार को गिरफ्तारी दी। इस प्रदर्शन में किसान सभा, सर्व कर्मचारी संघ, अध्यापक संघ तथा रिटायर्ड कर्मचारी संघ व सीटू के कार्यकर्ताओं ने भी हिस्सेदारी की थी। अपनी मांगों को लेकर चार सौ आंगनवाड़ी वर्कर्स व हैल्पर्स ने गिरफ्तारी दी। पुलिस गिरफ्तारों को 10 बसों में उचाना, पिल्लूखेड़ा, ट्रैफिक थाना तथा विश्वविद्यालय चौकी ले जाया गयाए जिन्हें बाद में निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया।

बुधवार को आंगनबाड़ी वर्कर्स व हैल्पर्स यूनियन तथा स्टेट तालमेल कमेटी के आह्वान पर जिलाभर की वर्कर्स जिला प्रधान भुला देवी के नेतृत्व में लघु सचिवालय के बाहर प्रदर्शन किया। इस मौेके पर किसान सभा के प्रदेशाध्यक्ष फूल सिंह श्योकंद, हरियाणा अध्यापक संघ के अध्यक्ष साधूराम, रिटायर्ड कर्मचारी संघ के आजाद पांचाल, सीटू के कपूर सिंह, आजाद सिंह समेत कई कर्मचारी नेताओं ने अपने विचार रखे। वक्ताओं ने आरोप लगाया कि सरकार अपने वादे से मुकर रही है। वर्ष 2018 में मांगों को लेकर सहमति बनी थी। साढ़े तीन साल के बाद भी उन्हें लागू नहीं किया गया है। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। गिरफ्तारी देने के लिए आंगनवाड़ी वर्कर्स व हैल्पर्स प्रदर्शन करते हुए लघु सचिवालय की तरफ बढ़ रही थी तो अदालत परिसर गेट के निकट पहुंचते ही पुलिस ने उन्हें रोक लिया। फिर प्रदर्शनकारी कार्यकर्ताओं व वर्करों को रोडवेज तथा पुलिस की दस बसों में भर कर उन्हें उचाना थाना, पिल्लूखेड़ा, ट्रैफिक थाना तथा सीआरएसयू पुलिस चौकी ले जाया गया।

डीएसपी धर्मवीर खर्ब ने बताया कि डिजास्टर अधिनियम लागू किया गया है। प्रदर्शनकारियों की संख्या निर्धारित से ज्यादा रही है। जिसके लिए अनुमति भी नहीं ली गई है। गिरफ्तार किए गए प्रदर्शनकारियों के खिलाफ डिजास्टर अधिनियम के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। डयूटी मजिस्ट्रेट ने आंगनबाड़ी हैल्पर व उनके नेताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। जिसके आधार पर 13 नेताओं व 300 के लगभग आंगनबाड़ी वर्करों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Next Story
Share it