Top
Action India

जींद: टीबी की जानकारी देने वाले को सरकार देती है 500 रुपये प्रोत्साहन राशि

जींद: टीबी की जानकारी देने वाले को सरकार देती है 500 रुपये प्रोत्साहन राशि
X

जींद। एक्शन इंडिया न्यूज़

स्वास्थ्य विभाग के निर्देशानुसार मंगलवार को पॉलीक्लीनिक में निक्षाय दिवस मनाया गया। इसमें मरीजों, स्वास्थ्यकर्मियों के साथ-साथ आमजन को टीबी रोग के लक्ष्णों, बचाव व स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी गई।

कार्यक्रम की अध्यक्षता सीएमओ डा. मनजीत सिंह ने की जबकि जिला क्षय रोग अधिकारी डा. संदीप लोहान ने टीबी रोग के बारे में जागरूक किया। उन्होंने कहा कि टीबी एक संक्रामक रोग है जो हवा और सांस से फैलता है। जब कोई टीबी का मरीज खांसता या छींकता है तो उससे निकलने वाले कणों के संपर्क में आने से टीबी हो सकता है। टीबी का एक प्रमुख लक्षण है खांसी। अगर आपको तीन हफ्ते से ज्यादा समय से खांसी हो तो इसे नजरअंदाज न करें।

खांसी में खून आना, सीने में दर्द या सांस लेने और खांसने में दर्द होना, लगातार वजन कम होना, चक्कर आना, रात में पसीना आना, ठंड लगना, भूख न लगना इसके मुख्य कारण हैं। उन्होंने बताया कि टीबी का इलाज पूरी तरह मुमकिन है। सरकारी अस्पतालों और डॉट्स सेंटरों में इसका फ्री इलाज होता है। सबसे जरूरी है कि इलाज टीबी के पूरी तरह ठीक हो जाने तक चले। बीच में छोड़ देने से बैक्टीरिया में दवाओं के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो जाती है और इलाज काफी मुश्किल हो जाता है क्योंकि आम दवाएं असर नहीं करती हैं।

उन्होंने बताया कि टीबी की जानकारी देने वाले को सरकार द्वारा 500 रुपए प्रोत्साहन राशि दी जाती है। उन्होंने टीबी मरीजों की समस्याएं सुनी और एआईसी किट प्रदान की। इस मौके पर डा. श्याम सुंदर, डा. संदीप, डा. रिंकी, कोमल देशवाल, नरेश, संदीप, पूजा, मुकेश, सुमन, नीलम सहित अन्य स्वास्थ्यकर्मी मौजूद रहे।

Next Story
Share it