Top
Action India

कोरोना योद्धा : अपनी 'सीमा' से बढ़कर की है लोगों की सेवा

कोरोना योद्धा : अपनी सीमा से बढ़कर की है लोगों की सेवा
X

नई दिल्ली । तीरथ राज (Action News Network)

आज पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है। ऐसे में बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्होंने अपनी जान की परवाह किये बिना जरूरतमंद लोगों को अन्न और अन्य जरूरत की चीज् मुहैया करवाई। इनमें बहुत से लोग चर्चा में आ भी जाते हैं और बहुत से नहीं भी आ पाते। ऐसे में एक्शन इंडिया की ये कोशिश है कि कागजी योद्धाओं से इतर रियल कोरोना योद्धा समाज के सामने आएं। इसी कड़ी में आज हम आपको मिलवा रहें हैं, ऐसे ही एक वास्तविक कोरोना योद्धा सीमा निगम से।

कौन है सीमा निगम

सीमा निगम वर्तमान में भाजपा दिल्ली प्रदेश में कार्यकारिणी सदस्य और चांदनी चौक जिला भाजपा में जिला उपाध्यक्ष की भी जिम्मेवारी निभा रही है। इसके अलावा मॉडल टाउन क्षेत्र की कई धार्मिक और सामाजिक संस्थाओं से भी जुड़ी हुई है।

आपको बता दें कि सीमा निगम गरीब, जरूरतमंद व निर्धन तबके की सहायता करने में हमेशा ही आगे रहती हैं, यही कारण है आज मॉडल टाउन क्षेत्र में सीमा निगम किसी भी परिचय की मोहताज नहीं है।

कोरोना काल में क्या रही है सीमा निगम की भूमिका

सीमा निगम ने मॉडल टाउन क्षेत्र में लॉकडाउन के दौरान हजारों गरीब व असहाय लोगों और प्रवासियों की सहायता की है। इन्होंने रसोई चलाकर गरीबों और मजदूरों को नियमित तौर पर भोजन करवाया। तो वहीं, नि: शुल्क मास्क बांटकर क्षेत्रवासियों को जागरूक करने का कार्य किया है।

जिला उपाध्यक्ष सीमा निगम ने लोगों में सेनिटाईजर बांटा है। इसके अलावा हजारों गरीब व जरूरतमंदों में मोदी किट बांटी है। जिसमें आटा, चावल, दाल, साबुन, चीनी, दूध का पाउडर, नमक व अन्य वस्तुएं शामिल हैं। इसके अलावा बच्चों में बिस्कुट व अन्य जरूरी सामनो का भी विरतण किया है।

लोगों में बांटें सेनिटाईजर और मास्क

सीमा निगम ने लॉकडाउन के दौरान सेनिटाईजर और निशुल्क मास्क बांटे। साथ ही लोगों को जागरूक करते हुए अपील की कि बिना कार्य के घर से बाहर न निकले, अगर घर से बाहर निकलना भी पड़ता है, तो मुंह पर मास्क लगाकर निकले और बाजार में जाये तो सोशल डिस्टेसिंग का ध्यान अवश्य ही रखे। जो बहुत ही ज्यादा जरूरी है।

जरूरतमदों में बांटा कच्चा राशन और किट

सीमा निगम ने हजारों जरूरतमंद, असहाय व निर्धन तबके में राशन का वितरण किया। जिसमें आटा, चावल, दाल, साबुन, चीनी, दूध का पाउडर, नमक व अन्य वस्तुएं थी। ताकि लोगों को इस संकट की घड़ी में परेशान न होना पडे। सीमा निगम ने रसोई के माध्मम से हजारों लोगों को भोजन करवाया और भोजन पैक करवा कर भी लोगों में देने का कार्य किया। जिससे की कोई मजदूर व गरीब का परिवार भूखा न सोये।

मास्क और सर्जिकल ग्लव्स बांटकर कोरोना के प्रति लोगों को किया सचेत

जिला उपाध्यक्ष सीमा निगम ने मॉडल टाउन के कई चौराहों और मुख्य सड़कों पर जाकर लोगों को नि:शुल्क मास्क और ग्लव्स बांटे। इस दौरान उन्हें कई सामाजिक संस्थाओं का भी साथ मिला।

महिलाओं में बांटें निशुल्क सैनेटरी पैड

जिला उपाध्यक्ष सीमा निगम ने मॉडल टाउन क्षेत्र और आस-पास के स्लम इलाकों में रहने वाली महिलाओं को जागरूक किया और उनको सैनेटरी पैड भी बांटे।

गरीब, असहाय और मजूदरों की सभी करें सहायता: सीमा निगम

मैंने लॉकडाउन के दौरान कई लोगों की सहायता की है। इससे उन्हें परेशान न होना पडे। इसलिए सभी को जरूरतंमद, गरीब व मजूदर की सहायता करनी चाहिए। क्योंकि सहायता करना एक पुण्य का कार्य है। इसके अलावा सीमा निगम ने प्रवासियों की भी आर्थिक रूप से सहायता की है। जिससे की वह लॉकडाउन में परेशान न हो।

जरूरतमंदों की सहायता करने में आज भी आगे है सीमा निगम

आनलॉक-वन में भी सीमा निगम गरीब, असहाय, जरूरतमंद व निर्धन तबके की सहायता कर रही हैं। सीमा निगम के पास जहां से भी मदद की कॉल आती है, वह उसकी सहायता अवश्य ही करती है। जिससे की उस व्यक्ति को समस्याओं से रूबरू न होना पडे। एक्शन इंडिया डेस्क / तीरथ राज

Next Story
Share it