Top
Action India

बार-बार जाम से आमजन परेशान, हाइवे किनारे फुटपाथ बन सकती है बड़े हादसे की वजह

बार-बार जाम से आमजन परेशान, हाइवे किनारे फुटपाथ बन सकती है बड़े हादसे की वजह
X

जालोर। एएनएन (Action News Network)

सांचौर शहर से गुजरने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग पुलिस व प्रशासन की उदासीनता के कारण बड़े हादसे की वजह बन सकता है। करोड़ों रुपये खर्च कर निर्मित राजमार्ग पर आए दिन यातायात जाम रहता है। फुटपाथ पर अवैध चाय की थडिय़ां से लोगों को पैदल चलने में भी परेशानी हो रही है। शहर के चार रास्ता स्थित फुटपाथ पर पैदल राहगीरों के चलने की बात तो दूर खड़े रहने तक की जगह नसीब नहीं हो रही है।

गौरतलब है कि शहर में कृषि मंडी से माखुपुरा तक चार किलोमीटर लंबा फोर लाइन हाइवे बनाया गया था। ताकि ट्राफिक व्यवस्था को नियंत्रित किया जा सके। वहीं लंबी दूरी के वाहनों को बिना किसी व्यववधान के आसानी से बाहर जाने का रास्ता मिल सके। मगर फोर लाइन हाइवे पर प्रशासन की उदासीनता से अव्यवस्थाओं का आलम बना हुआ है। हाइवे दोनों ओर बने फुटपाथ पर लोगों ने अवैध रूप से दुकानें खोल रखी है।

हाइवे पर जहां एक ओर पूरे दिन फर्राटे से गाडिय़ां दौड़ती रहती हैं, वहीं इसके दोनों ओर फुटपाथ पर लगी लोहे की जाली भी तोड़ देने से लोग एक्सप्रेस हाइवे पर बिना रोकटोक के आवाजाही करते हैं। फुटपाथ पर चल रहे ढाबों व गैराजों पर भी मैकेनिक डिवाइडर के आस पास तक काम करते हैं। गत फरवरी माह में ट्रक ठीक करते समय दूसरी गाड़ी के टक्कर मारने से एक मैकेनिक की मौत हो गई थी। इसके बावजूद प्रशासन कोई सबक नहीं ले रहा है।

शहर से गुजरने वाले नेशनल हाइवे की फुटपाथों पर हाथ ठेलों के साथ व्यापारी भी सामान रखकर दुकानें चला रहे हैं। दूसरी ओर मुख्य चौराहे व बस स्टेशन के आस-पास निजी बसों व ट्रकों और टैक्सियों का जमावाड़ा रहता है। नाम नहीं छापने की शर्त पर पुलिस विभाग के कार्मिकों का कहना है कि जब वे नियम विरुद्ध खड़े वाहनों व ढाबों को हाइवे से हटाने की कार्रवाई करते हैं तो जनप्रतिनिधियों व अन्य प्रभावशाली लोगों का दबाव आ जाता है। जिसकी वजह से वे स्वतंत्र रूप से कार्रवाई नहीं कर पाते हैं।

Next Story
Share it