Top
Action India

गृहमंत्री फेलिक्स ने राजधानी के प्रवेश चेक प्वाइंटों का लिया जायजा

इटानगर। एएनएन (Action News Network)

अरुणाचल प्रदेश के गृह मंत्री बामांग फेलिक्स ने राजधानी इटानगर के सभी प्रवेश चेक प्वाइंटों का दौरा स्थिति का जायजा लिया। चेक प्वाइंट पर तैनात पुलिसकर्मी और स्वस्थ्य विभाग के कर्मचारी का मनेबल बढ़ाते हुए उन्हें सरकार के दिशा-निर्देशों का सही तरिके से पालन करने का सुझाव दिया।

फेलिक्स ने असम-अरुणाचल के सीमा क्षेत्र बंदरदेवा, गुमतो और होलंगी चैक गेट का भी दौरा किया। उन्होंने होलेंगी चेक गेट का निरीक्षण करते हुए तैनात पुलिस बलों को सख्त और सही तरिके से जिला प्रशासन के निर्देश के अनुसार जांच करने और डायरी को मेंटेन करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि अगर किसी को ड्यूटी में लापरवाही बरतते पाये जाने पर उसके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि छोटी सी लापरवाही पूरे राज्य के लोगों की सुरक्षा को खतरे में डाल सकती है।

इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए गृहमंत्री ने कहा कि अपने परिवार से दूर रहकर राज्यवासियों व मानवती की रक्षा के लिए कोरोना वायरस की लड़ाई में पुलिसकर्मी या स्वास्थ्यकर्मी जो भी आगे रहते हुए काम कर रहे हैं उन लोगो का मनोबल बढ़ाने और उनकी समस्याओं को जानने के लिए ही दौरे पर निकले हैं। उन्होंने सभी से अपनी समस्याओं को बताने का आह्वान किया, ताकि विभाग स पर अमल करे सके।

उन्होंने कहा कि अरुणाचल प्रदेश अभी भी सुरक्षित नही हैं। हालांकि, पुलिसकर्मी सभी प्रवेश गेटों पर सही तरीके से जांच कर रहे हैं। लेकिन, राजधानी क्षेत्र में प्रवेश करने के कई जंगली रास्ते हैं। इन रास्तों से संक्रमित व्यक्ति भी प्रवेश कर सकते हैं। इसलिए हमें अपने आपको सुरक्षित करना है। घरो में रहना है। समाजिक दूरी को बनाए रखना हैं। सड़क पर नहीं निकालना है। कारण एक व्यक्ति की गलती के कारण हम सब इसका परिणाम भुगत सकते हैं।

इस दौरान उन्होंने मास्क, सेनिटाइजर, ग्लब्स और कुछ खाने का समान भी बांटा। वहीं होलंगी चैक गेट की ड्यूटी पर तैनात स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने शिकायत किया कि उनके लिए खाने-पीने का कोई प्रबंध नही किया गया है। उन्होंने कहा कि हमारे पास पैसे तो हैं लेकिन दुकानें बंद होने के कारण खाने-पीने का प्रबंध नही हो पा रहा है।

Next Story
Share it