Top
Action India

मानव तस्करी के आरोप में नियोजक और एजेंट पर एफआईआर दर्ज

मानव तस्करी के आरोप में नियोजक और एजेंट पर एफआईआर दर्ज
X

बीजापुर । एएनएन (Action News Network)

जिले के ग्राम आदेड़ की 12 वर्षीय नाबालिग जमलो मड़कम की मृत्यु लॉक डाउन में तेलंगाना से वापस लौटने के दौरान एक सौ किमी पैदल चलकर 18 अप्रैल को बीजापुर के मोदकपाल पहुंचने के बाद डिहाइड्रेशन का शिकार होकर बच्ची जमलो की मौत हो गई थी। जिसके बाद मुख्यमंत्री के निर्देश पर त्वरित कार्रवाई करते हुए श्रम विभाग के सचिव सोनमणि बोरा ने जिले की मृतक बालिका जमलो मड़कम की मृत्यु पर तेलंगाना के संबंधित नियोजक और एजेंट कुमारी सुनीता के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए गए। बीजापुर के श्रम निरीक्षक द्वारा कोतवाली बीजापुर में बुधवार को अवैध मानव तस्करी के आरोप में नियोजक तेलंगाना के संतोष मंचाल और एजेंट कुमारी सुनीता मरकाम के ख‍िलाफ एफआईआर दर्ज करायी गई है।
उल्लेखनीय है कि मृतक बालिका जमलो मड़कम को सुनीता मरकाम एजेंट द्वारा अन्य 11 श्रमिकों के साथ तेलंगाना के संतोष मंचाल नियोजक के संस्थान में मिर्ची तोड़ने के कार्य के लिए लेकर गई थी। जिसकी सूचना श्रम विभाग को नहीं दी गई थी। लॉकडाउन होने के कारण जंगल के रास्ते से सभी श्रमिक कुमारी सुनीता मरकाम के माध्यम से वापस ग्राम आदेड जिला बीजापुर आ रहे थे। मृत्यु होने की जानकारी के बाद श्रम निरीक्षक के द्वारा पृथक जांच उपरांत ज्ञात हुआ कि कुमारी सुनीता मरकाम के द्वारा श्रम विभाग जिला बीजापुर को बिना कोई सूचना दिए 5 नाबालिग बच्चों को तेलंगाना लेकर गई है। जो अवैध मानव तस्करी के श्रेणी में आता है।

Next Story
Share it