Top
Action India

कोरोना के बावजूद आईआईटी दिल्ली के 85.6 प्रतिशत छात्रों को मिला प्लेसमेंट

नई दिल्ली । एएनएन (Action News Network)

कोरोना संकट के बावजूद भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) दिल्ली के छात्रों को पिछले वर्ष के मुकाबले 4 प्रतिशत अधिक कैम्पस प्लेसमेंट मिला है। शैक्षणिक वर्ष 2019-2020 के लिए लगभग 85.6 प्रतिशत स्नातक और स्नातकोत्तर छात्रों को नौकरी का प्रस्ताव भी मिला है।

संस्थान ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा कि विभिन्न राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय कंपनियों ने वर्तमान प्लेसमेंट सीजन में छात्रों के लिए 1,100 से अधिक नौकरी की पेशकश (कई नौकरी की पेशकश और पूर्व-प्लेसमेंट ऑफर सहित) के साथ पिछले वर्ष के बेंचमार्क को पार कर दिया।

प्लेसमेंट पाने वाले 85.6 प्रतिशत के अलावा अन्य छात्रों ने अपने स्वयं के संपर्कों और प्रयासों के माध्यम से उच्च अध्ययन, अनुसंधान, सिविल सेवा परीक्षा, स्टार्ट-अप या नौकरी प्राप्त करने के विकल्प तलाशे।

वर्तमान प्लेसमेंट सीजन में, 430 से अधिक कंपनियों ने 600 से अधिक जॉब प्रोफाइल पेश किए थे।बयान में कहा गया है, कोरोना महामारी के दौरान, ऑनलाइन माध्यम में प्लेसमेंट का दूसरा चरण जारी रहा और लगभग 100 छात्रों को इस ऑनलाइन चरण के दौरान नौकरी का प्रस्ताव मिला।

प्लेसमेंट सीजन के लिए सेक्टर डेटा से पता चलता है कि अधिकतम छात्रों को कोर सेक्टर (31 प्रतिशत) और इसके बाद आईटी (23 प्रतिशत), अन्य (14 प्रतिशत) और एनालिटिक्स से 13 प्रतिशत ऑफर मिले हैं।

कंसलटेंसी सेक्टर में कम से कम 9 प्रतिशत, प्रबंधन में 7 प्रतिशत और वित्त में 3 प्रतिशत के प्रस्ताव मिले हैं।संस्थान में करियर सेवा (ओसीएस) के कार्यालय के प्रमुख प्रोफेसर एस धर्मराज ने एक बयान में कहा है कि इस साल, यह देखा गया कि प्लेसमेंट प्रस्तावों की संख्या में 4 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

Next Story
Share it