Action India

विकास समन्वय एवं मानिटरिंग कमेटी की बैठक में जनप्रतिनिधियों ने दिये खामियों को ठीक करने के निर्देश

विकास समन्वय एवं मानिटरिंग कमेटी की बैठक में जनप्रतिनिधियों ने दिये खामियों को ठीक करने के निर्देश
X

रतलाम । Action India News

सभी विभागों के अधिकारी ईमानदारी के साथ कार्य करके रतलाम जिले के विकास को नए आयाम दें। गरीब, कमजोर व्यक्तियों के कल्याण के लिए संचालित योजनाओं, कार्यक्रमों का क्रियान्वयन जिम्मेदारी के साथ करें। यह निर्देश जनप्रतिनिधियों ने शनिवार को जिला विकास समन्वय एवं मानिटरिंग कमेटी की बैठक में दिए। जिला परियोजना समन्वयक कार्यालय द्वारा स्कूलों में कराए जाने वाले निर्माण कार्यों की समीक्षा के दौरान बैठक की अध्यक्षता करते हुए सांसद गुमानसिंह डामोर ने इस बात पर सख्त नाराजगी व्यक्त की कि जिले में कई कार्य करीब 12 वर्षों से अपूर्ण है।

डामोर ने निर्देश दिए कि जो भी अपूर्ण कार्य पूर्ण हो सकते हैं, वह तत्काल पूर्ण कराए जाएं। साथ ही इस संबंध में गड़बड़ी करने वाले सरपंच, सचिवों से राशि वसूल की जाए, धारा 40 के तहत कार्रवाई की जाए। बताया गया कि जिले में शासकीय राशि में गड़बड़ी करने वालों से लगभग सवा करोड रुपए की वसूली धारा 92 के तहत की गई है। उन्होंने जिला पंचायत सीईओ को निर्देशित किया कि अपूर्ण कार्यों को पूर्ण कराने के लिए विशेष कार्ययोजना बनाकर कार्य करें।

बीपीएल सूची का सही सत्यापन हो

बैठक में बीपीएल परिवारों के सत्यापन अभियान संबंधी समीक्षा के दौरान सांसद डामोर ने जिला खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिए कि बीपीएल सूची से जिन परिवारों व्यक्तियों के नाम हटाए जाएं, वह संपूर्ण जांच के पश्चात ही हटाए। विधायक चेतन्य काश्यप ने कहा कि गलत तरीके से अथवा पात्र हितग्राही व्यक्ति के नाम हटाए जाने पर संबंधित अधिकारी जिम्मेदार रहेंगे। शासकीय अमला यदि जवाबदारी से कार्य करेगा तो शत-प्रतिशत रूप से सही व्यक्तियों के नाम सूची में आएंगे। विधायक डा. राजेन्द्र पांडे ने कहा कि जिन व्यक्तियों के पास पात्रता पर्ची है उनको राशन की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए।

होस्टल तथा आंगनवाड़ी को जाने वाली राशन की जांच हो

कलेक्टर रूचिका चौहान ने बताया कि सूची से जिन व्यक्तियों के नाम हटाए गए हैं वह सूचियां ग्राम पंचायतों तथा अन्य कार्यालयों स्थानों पर चस्पा की गई है जहां कोई भी व्यक्ति आकर अपना नाम चेक कर सकता है। बताया गया कि विगत 2 वर्षों में लगभग 2700 व्यक्तियों के नाम बीपीएल सूची से हटाए गए हैं। कलेक्टर ने जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिए कि हटाए गए नामों का पुन: सत्यापन कर लेवे ताकि कोई पात्र व्यक्ति का नाम नहीं हटे। विधायक श्री काश्यप ने कहा कि उचित मूल्य दुकानों से हॉस्टल, आंगनवाड़ी इत्यादि को जाने वाले राशन में गड़बड़ी को चेक करने के लिए जानकारी देवें कि विगत दिनों में कितनी मात्रा में राशन की जब्ती की गई है जो संबंधित संस्था को जाना था परंतु नहीं गया।

Next Story
Share it