Action India
India

लगातार दूसरे दिन गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स 666 अंक तक लुढ़का

लगातार दूसरे दिन गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स 666 अंक तक लुढ़का
X

नई दिल्ली। एक्शन इंडिया न्यूज़

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की चौतरफा बिकवाली के कारण घरेलू शेयर बाजार आज लगातार दूसरे दिन मंगलवार को गिरावट के साथ बंद हुआ। दिनभर के कारोबार के दौरान विदेशी निवेशकों की बिकवाली के असर को कम करने के लिए घरेलू संस्थागत निवेशकों ने जमकर खरीदारी भी की, लेकिन कमजोर ग्लोबल संकेतों के कारण हो रही बिकवाली के असर से घरेलू शेयर बाजार बच नहीं सका।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के सेंसेक्स ने 221.07 अंक की कमजोरी के साथ 58,743.50 अंक के स्तर से आज के कारोबार की शुरुआत की। शुरुआती कारोबार में ही खरीदारों ने लिवाली करके शेयर बाजार को संभालने की कोशिश की। लिवाली के इस सपोर्ट से शुरुआती 15 मिनट के कारोबार में ही सेंसेक्स उछलकर 58,703.11 अंक के स्तर तक पहुंच गया। लेकिन विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की ओर से हो रही जोरदार बिकवाली के कारण ये सूचकांक अगले कुछ मिनट में ही गिर कर 58,487.42 अंक के स्तर पर आ गया।

खरीदारों ने इस स्तर पर एक बार फिर बाजार को संभालने की कोशिश की, जिसके कारण सेंसेक्स दोबारा मजबूत होकर 58,650.42 अंक के स्तर तक पहुंचा, लेकिन इस स्तर पर शुरू हुई बिकवाली के दबाव के कारण उसे दोबारा गोता लगाने के लिए मजबूर होना पड़ा। बिकवाली का दबाव सुबह 10:30 बजे तक लगातार बना रहा, जिसके कारण सेंसेक्स 666 अंक गिरकर आज के सबसे निचले स्तर 58,298.57 अंक तक पहुंच गया।

इस गिरावट के बाद बाजार में उठापटक का दौर शुरू हो गया। खरीदारों की कोशिश से कभी सेंसेक्स ऊपर जाता, तो कभी बिकवाली के दबाव में ये सूचकांक नीचे फिसल जाता। बाजार की ये स्थिति दोपहर 2:00 बजे से थोड़ी देर पहले तक बनी रही। इस समय तक लेकिन इसके बाद घरेलू संस्थागत निवेशक चौतरफा खरीदारी कर बाजार को संभालने की कोशिश में जुट गए। घरेलू संस्थागत निवेशकों की खरीदारी के कारण अगले 1 घंटे में ही सेंसेक्स आज के सर्वोच्च स्तर 58,794.78 अंक तक पहुंच गया। हालांकि कारोबार के आखिरी दौर में इंट्रा-डे सेटेलमेंट के कारण हुई बिकवाली की वजह से सेंसेक्स एक बार फिर दबाव में आ गया और 388.20 अंक की गिरावट के साथ 58,576.37 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

सेंसक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के निफ्टी ने भी आज 90.10 अंक की गिरावट के साथ 17,584.85 अंक के स्तर से कारोबार की शुरुआत की। निफ्टी में भी शुरुआती कारोबार के दौरान लिवाली के सपोर्ट से थोड़ी तेजी आती नजर आई। लेकिन बाजार में बिकवाली का दबाव इतना अधिक था कि ये सूचकांक मामूली रिकवरी के बाद लगातार गिरता चला गया।

सुबह करीब 10:30 बजे तक हुई बिकवाली के बाद घरेलू संस्थागत निवेशकों ने जब बाजार में मोर्चा संभाला, तो निफ्टी की स्थिति में भी सुधार हुआ। लेकिन बाजार पर बिकवाली का दबाव लगातार बना रहा। दोपहर 2:00 बजे से थोड़ी देर पहले निफ्टी 232.60 अंक की गिरावट के साथ 17,442.35 अंक तक पहुंच गया। इसके बाद घरेलू संस्थागत निवेशकों ने एक बार फिर दम दिखाया। उनके द्वारा की जा रही खरीदारी के सपोर्ट से निफ्टी 150 अंक से अधिक उछलकर आज के सर्वोच्च स्तर 17,595.30 अंक तक पहुंच गया।

हालांकि निफ्टी दिन के कारोबार के अंत तक इस स्तर पर बना नहीं रह सका। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की बिकवाली के कारण निफ्टी में एक बार फिर गिरावट आई और ये सूचकांक 144.65 अंक गिरकर 17,530.30 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

दिनभर के कारोबार के बाद बीएसई में शामिल 30 शेयरों में से 9 शेयर मुनाफा कमाकर हरे निशान में बंद हुए, जबकि 21 शेयर बिकवाली के दबाव में फंस कर लाल निशान में बंद हुए। निफ्टी के 11 सेक्टोरल इंडेक्स में से मेटल और रियल्टी सेक्टर में 2 प्रतिशत से अधिक की गिरावट दर्ज की गई। जबकि पीएसयू बैंक, आईटी और मीडिया इंडेक्स में भी 1 प्रतिशत की कमजोरी देखी गई। वहीं प्राइवेट बैंक और फाइनेंशियल सर्विस इंडेक्स में बढ़त बनी रही।

दिग्गज शेयरों में से एक्सिस बैंक 1.58 प्रतिशत, कोटक महिंद्रा बैंक 1.03 प्रतिशत, पावर ग्रिड कॉरपोरेशन 0.95 प्रतिशत, मारुति सुज़ुकी 0.7 प्रतिशत और एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस 0.58 प्रतिशत की मजबूती के साथ आज के टॉप 5 गेनर्स की सूची में शामिल हुए। दूसरी ओर हिंडाल्को इंडस्ट्रीज 5.9 प्रतिशत, कोल इंडिया 5.3 प्रतिशत, ग्रासिम इंडस्ट्रीज 3.55 प्रतिशत, टाटा मोटर्स 3.04 प्रतिशत और टाटा स्टील 2.77 प्रतिशत की कमजोरी के साथ आज के टॉप 5 लूजर्स की सूची में शामिल हुए।

Next Story
Share it