Action India
अन्य राज्य

एकांतवास केन्‍द्रों में रह रहे लोगों को न हो किसी भी प्रकार की दिक्कत : मुख्यमंत्री भूपेश

एकांतवास केन्‍द्रों में रह रहे लोगों को न हो किसी भी प्रकार की दिक्कत : मुख्यमंत्री भूपेश
X

रायपुर । एएनएन (Action News Network)

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए प्रदेश में बनाए गए एकांतवास केन्‍द्रों (क्वारेंटाइन सेंटरों) में रह रहे श्रमिकों और अन्य लोगों को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। उनके ठहरने, भोजन, पेयजल, स्वास्थ्य जांच, मनोरंजन सहित सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुचारू रूप से उपलब्ध हो। मुख्यमंत्री ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख सचिव को इन एकांतवास केन्‍द्रों की व्यवस्था की नियमित न‍िगरानी करने के निर्देश दिए हैं।

उल्‍लेखनीय है कि प्रदेश में कोरोना महामारी से बचाव के लिए 19 हजार 374 एकांतवास केन्‍द्र बनाए गए हैं, जिसमें वर्तमान में 2 लाख 23 हजार 150 लोग रह रहे है। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि सभी एकांतवास केन्‍द्रों में नोडल अधिकारी तैनात किए जाएं और रह रहे लोगों की सुविधाओं पर विशेष ध्यान दिया जाए। रह रहे सभी लोग मास्क लगाए और शारीर‍िक दूरी (सोशल-फिजिकल डिस्टेंसिंग) का पालन करें। मुख्यमंत्री ने कहा क‍ि एकांतवास केन्‍द्रों की नियमित साफ-सफाई, आस-पास के बरामदे और पेयजल स्थल के आस-पास ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव तथा लोगों के स्नान और बार-बार हाथ धोने के लिए पर्याप्त पानी की व्यवस्था सुनिश्चित हो। एकांतवास केन्‍द्र में ठहरे गर्भवती माताओं, बच्चों और वृद्धजनों की देखभाल की विशेष व्यवस्था रहे।

गर्भवती महिलाओं और बच्चों के स्वास्थ्य जांच और उनका समय पर टीकाकरण सुनिश्चित हो। इसके अलावा अन्य बीमारियों से पीड़ित खासकर वृद्धजनों की स्वास्थ्य जांच कर उन्हें दवाएं उपलब्ध करायी जाए। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की मेडिकल टीम गठित आवश्यक दवाओं के साथ एकांतवास केन्‍द्रों में तैनात रहे। किसी भी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण पाए जाने पर तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित करते हुए आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

Next Story
Share it