Action India
अन्य राज्य

कर्मचारियों के वेतन में कटौती करने वाली निजी कम्पनियों का संज्ञान ले सरकार-मायावती

कर्मचारियों के वेतन में कटौती करने वाली निजी कम्पनियों का संज्ञान ले सरकार-मायावती
X

  • अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस पर बसपा सुप्रीमो ने केन्द्र व राज्य सरकारों से की अपील

  • अखिलेश बोले बधाई का अवसर नहीं, श्रमिकों के घर सुरक्षित पहुंचने की कामना

लखनऊ । एएनएन (Action News Network)

बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस पर लॉकडाउन के कारण कामगारों की खराब स्थिति पर चिंता जतायी है। उन्होंने केन्द्र व राज्य सरकारों से अपना मुनाफा बरकरार रखने के लिए कर्मचारियों के वेतन में कटौती करने वाली निजी कम्पनियों का मामला संज्ञान में लेने की अपील की है।

मायावती ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस को मई दिवस के रूप में मजदूर व मेहनतकश वर्ग हर वर्ष धूम से मनाते हैं। परन्तु, वर्तमान कोरोना महामारी व लाॅकडाउन के कारण उनकी रोजी-रोटी पर अभूतपूर्व गहरा संकट छाया हुआ है। ऐसे में केन्द्र व राज्यों की कल्याणकारी सरकार के रूप में भूमिका बहुत ही जरूरी है।उन्होंने कहा कि इसलिए केन्द्र व राज्य सरकारों से अपील है कि वे करोड़ों गरीब मजदूरों व मेहनतकश परिवार वालों के जीवनदायी हितों की रक्षा में सार्थक कदम उठाएं व उन बड़ी प्राइवेट कम्पनियों का भी संज्ञान लें जो केवल अपना मुनाफा बरकरार रखने के लिए कर्मचारियों की सैलरी में मनमानी कटौती कर रही हैं।

वहीं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया कि इस साल कोरोनाकाल में एक अलग तरह का 'श्रमिक दिवस’ है। देश के कई राज्यों में मजदूर घरों से दूर बिना काम और पैसे के परेशान हैं। इस वजह से इस साल, इस दिन किसी शुभकामना या बधाई देने का अवसर तो नहीं है परंतु श्रमिक अपनों के पास घर सुरक्षित पहुंच पाएं, ये कामना तो हम कर ही सकते हैं।

Next Story
Share it