Site icon HINDI NEWS,LATEST NEWS IN HINDI,ब्रेकिंग न्यूज,ACTION INDIA NEWS|एक्शन इंडिया समाचार

सीमा पार आतंक के खिलाफ एकजुट हों इंटरपोल के सदस्य देश

नई दिल्ली। एक्शन इंडिया न्यूज

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि आतंकवाद मानवाधिकारों के उल्लंघन का सबसे बड़ा अपराधी है। उन्होंने इंटपोल के सदस्य देशों से सीमा पार आतंक के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया।

उन्होंने कहा, “मेरा दृढ़ विश्वास है कि आतंकवाद मानवाधिकारों का सबसे बड़ा उल्लंघनकर्ता है। सीमा पार आतंकवाद से लड़ने के लिए सीमा पार सहयोग बहुत महत्वपूर्ण है और इसके लिए इंटरपोल सबसे अच्छा मंच है।”

केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने आज इंटरपोल की 90वीं महासभा के समापन सत्र को संबोधित किया। भारत की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर नई दिल्ली के प्रगति मैदान में इंटरपोल महासभा का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर दुनियाभर से आए कानून प्रवर्तन अधिकारियों से गृहमंत्री ने कहा कि ऑनलाइन माध्यम से दूसरे देशों में कट्टरपंथ को बढ़ावा देने को केवल राजनीतिक समस्या नहीं माना जा सकता। हमें यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध होना चाहिए कि आतंकवाद के खिलाफ एक प्रभावी लड़ाई दीर्घकालिक, व्यापक और टिकाऊ हो।

आपराधिक गतिविधियों के खिलाफ सरकार के प्रयासों का जिक्र कर शाह ने कहा कि भारत सरकार ने आतंकवाद, नशीले पदार्थों और आर्थिक अपराधों पर एक राष्ट्रीय डेटाबेस बनाने का भी निर्णय लिया है। भारत सरकार ने साइबर अपराध से व्यापक तरीके से निपटने के लिए भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र, I4सी की स्थापना की है।

Exit mobile version