Action India
झारखंड

झारखंड पुलिस ने अबतक 8.99 लाख लोगों को कराया भोजन

झारखंड पुलिस ने अबतक 8.99 लाख लोगों को कराया भोजन
X

रांची । एएनएन (Action News Network)

झारखंड पुलिस ने लॉक डाउन के दौरान सामुदायिक रसोई केंद्र में अब तक 8 लाख 99 हजार 465 लोगों को भोजन करा चुकी है। एडीजी अभियान मुरारी लाल मीणा ने बताया राज्य के 24 जिले में 387 थाने में सामुदायिक रसोई केंद्र खोलकर लगातार गरीब और असहाय लोगों को भोजन कराया जा रहा है। झारखंड पुलिस लगातार कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉक डाउन का पालन कराने में 24 घंटे तत्पर है। गरीब और जरूरतमंद लोगों को किसी प्रकार की दिक्कत ना हो। इसके लिए राज्य के सभी थानों में अस्थाई तौर पर सामुदायिक रसोई केंद्र का निर्माण कर लोगों को भोजन कराया जा रहा है।

किन जिले में कितने सामुदायिक रसोई केन्द्र

एडीजी मुरारी लाल मीणा ने बताया कि राज्य में 387 समुदाय की रसोई केंद्र बनाई गई है। इनमें रांची में 35, गुमला में 18, लोहरदगा में 4 ,सिमडेगा में 15, खूंटी में 15, जमशेदपुर में 36, चाईबासा में 19, सरायकेला में 17, पलामू में28, गढ़वा में 6, लातेहार में 14, हजारीबाग में 25, रामगढ़ में 10 ,कोडरमा में 6, चतरा में 4, गिरिडीह में 17, धनबाद में 45, बोकारो में 9, दुमका में 15 ,देवघर में 17, जामताड़ा में 9, गोड्डा में 15, पाकुड़ में 6 और साहिबगंज में 2 शामिल हैं। *किन जिलों में कितने लोगों को खिलाया गया* रांची में 120224, गुमला में 9464, लोहरदगा में 11161, सिमडेगा 30531, खूंटी में 37653, जमशेदपुर में 130030, चाईबासा में 16819, सरायकेला में 31126, पलामू में 65743, गढ़वा में 7707, लातेहार में 15452, हजारीबाग में 32775, रामगढ़ में 45106, कोडरमा में 8559, चतरा में 7400, गिरिडीह में 35974, धनबाद में 180999, बोकारो में 23011, दुमका में 22752, देवघर में 21177, जामताड़ा में 2577, गोड्डा में 23142, पाकुड़ में19038 और साहेबगंज में 1045 लोगों को भोजन कराया गया है। कुल 8 लाख 99 हजार 465 लोगों को भोजन कराया गया है।

एडीजी ने कहा कि इसके अलावा पुलिसकर्मी ग्रामीण और सुदूर क्षेत्रों में जाकर गरीब और असहाय लोगों के बीच अनाज का भी वितरण कर रहे हैं। लोगों को किसी प्रकार की तकलीफ ना हो इसके लिए 100 डायल कर सूचना देने को लोगों से अपील की है। सूचना मिलते ही पुलिस अविलंब कार्रवाई करेगी।

Next Story
Share it