Top
Action India

तकनीक और सांस्कृतिक परंपरा से भरपूर है कानपुर शहर: राष्ट्रपति

तकनीक और सांस्कृतिक परंपरा से भरपूर है कानपुर शहर: राष्ट्रपति
X

अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस को बतौर मुख्य अतिथि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने किया संबोधित

कानपुर। एएनएन (Action News Network)

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि उन्हें गृह जनपद कानपुर आने पर बहुत खुशी मिलती है। यह शहर कई क्षेत्रों में दुनिया में अपना नाम रोशन कर रहा है। यहां तकनीक का बहुत पहले से बेहतर प्रयोग किया जा रहा है और यह शहर सांस्कृतिक परंपरा से भरपूर है।

शनिवार को देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कानपुर स्थित शहर के पीएसआईटी में रीसेंट एडवांसमेंट्स इन कंप्यूटर साइंस कम्युनिकेशन एंड इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी विषय पर आयोजित अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। कोविंद राष्ट्रपति बनने के बाद शनिवार को चौथी बार यहां आए हैं। उनका विमान चकेरी हवाई अड्डे पर करीब 42 मिनट की देरी से उतरा। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और उप मुख्यमंत्री डाॅ. दिनेश शर्मा ने राष्ट्रपति का स्वागत किया।

कोविंद यहां से एयरफोर्स के दूसरे विमान से पीएसआईटी कॉलेज पहुंचे, जहां रीसेंट एडवांसमेंट्स इन कंप्यूटर साइंस कम्युनिकेशन एंड इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी विषय पर आयोजित अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस को उन्होंने संबोधित किया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि कानपुर के चमड़ा उद्योग का पूरी दुनिया में नाम है।

यहां की मिलें भी पूरी दुनिया में जानी जाती हैं। कानपुर को एशिया का मैनचेस्टर कहा जाता रहा है। यहां के लोग शुरू से ही तकनीक को पसंद करने वाले रहे हैं, जिसके चलते कानपुर का नाम कई क्षेत्रों में दुनिया में मशहूर है। इसके साथ ही कानपुर शहर सांस्कृतिक परंपरा से भी भरपूर है।

कांफ्रेंस में ओमान, जर्मनी, बांग्लादेश, श्रीलंका, सिंगापुर समेत अन्य देशों के शिक्षाविद व वैज्ञानिकों ने भी व्याख्यान दिया। इस शिक्षाविद सम्मेलन में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, मशीन लर्निंग, डाटा साइंसेज, सिग्नल इमेज, क्लाउड कंप्यूटिंग, सोशल नेटवर्क्स और साइबर सिक्योरिटी पर अपने शोध कार्य प्रस्तुत किए गए।

इसके बाद राष्ट्रपति दूसरे कार्यक्रम छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय में आयोजित एल्यूमिनाई मीट के लिए रवाना हो गए। यहां से नगर निगम में आयोजित तीसरे कार्यक्रम में भी शिरकत करने के लिए वह जाएंगे। इस दौरान कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण, महापौर प्रमिला पाण्डेय और जनपद का प्रशासनिक अमला मौजूद रहा।

Next Story
Share it