Top
Action India

करनाल: फेसबुक पर हुई थी तकरार, हत्या के लिए 5 लाख में दी सुपारी

करनाल: फेसबुक पर हुई थी तकरार, हत्या के लिए 5 लाख में दी सुपारी
X

करनाल जीबीएसयू के प्रधान वीरेंद्र अहर पर हुए कातिलाना हमले के दो आरोपित गिरफ्तार

करनाल। एएनएन (Action News Network)

गांधी जयंती के दिन गुरु जम्बेश्वर स्टूडेंट यूनियन के प्रधान वीरेंद्र अहर को गोली मारने के दो आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही इस मामले के मुख्य आराेपित मनीष के लिए रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने की कार्रवाई की जा रही है।

सीआईए वन इंचार्ज दीपेंद्र राणा ने बुधवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पुरानी रंजिश के चलते वारदात को अंजाम दिया गया था। गिरफ्तार आरोपितों के नाम नवीन और अमित हैं। पुलिस ने इनके पास से एक पिस्टल भी बरामद की है। दोनों युवकों ने अमेरिका में बैठे एक युवक मनीष से पांच लाख रुपये लेकर वीरेंद्र अहर को गोली मारी थी।

दरअसल, फेसबुक पर वीरेंद्र अहर और अमेरिका में रह रहे मनीष के बीच कई बार कहासुनी हुई थी। इसके बाद मनीष ने वीरेंद्र को सबक सिखाने के लिए एक साजिश रची। उसने नवीन और अमित को वीरेंद्र की हत्या करने के लिए पांच लाख की सुपारी दे दी। अग्रिम के तौर पर मनीष ने आरोपितों को 50 हजार रुपये दे दिए।

2 अक्टूबर को कुंजपुरा रोड स्थित एक जिम से वीरेंद्र अहर निकलकर बुलेट से सेक्टर-13 घर जा रहा था। इसी दौरान मोटरसाइकिल सवार दो युवकों नवीन और अमित ने वीरेंद्र को गोली मार दी। दोनेां आराेपितों ने हेलमेट पहन रखे थे और कपड़े से मुंह ढक रखे थे। गोली वीरेंद्र की पीठ में लगी। उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां आज भी उसका उपचार चल रहा है। पीठ से गोली भी अभी तक नहीं निकाली जा सकी है।

आरोपितों ने पुलिस पूछताछ में बताया है कि मुन्ना रेहड़ी गांव का मनीष अमेरिका में रहता है। उसी ने वीरेंद्र की हत्या के लिए पांच लाख रुपये की सुपारी दी थी। पुलिस ने बुधवार को दोनों आरोपियों नवीन और अमित को निसिंग से गिरफ्तार कर लिया।दोनों आरोपित कैथल के त्योंठा गांव के रहने वाले हैं। मुख्य साजिश रचने वाले मनीष को रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया जाएगा।

Next Story
Share it