Top
Action India

नगरी क्षेत्र में तेंदुए का आतंक, दहशत में लोग

नगरी क्षेत्र में तेंदुए का आतंक, दहशत में लोग
X

धमतरी । एएनएन (Action News Network)

धमतरी जिले के नगरी ब्लॉक में इन दिनों तेंदुए के आतंक से लोग दहशत में है। विगत 15 दिनों से तेंदुआ ने नगरी क्षेत्र के अनेक स्थानों पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है। नगरी क्षेत्र में सर्वप्रथम शहरी क्षेत्र में चार अप्रैल को तेंदुआ का आगमन हुआ।

नगरी ब्‍लॉक के वार्ड क्रमांक एक के झारिया परिवार के निवास में पालतू कुत्ते को तेंदुआ उठा कर ले गया। घर से आधा किलोमीटर दूर मरे हुए कुत्ते का शव मिला। ठीक एक सप्ताह बाद ग्राम रतावा में छह वर्षीय बालक दीपांशु को तेंदुआ उठाकर ले जाने की कोशिश की। बच्चे के पिता की सक्रियता से तेंदुआ बच्चे को छोड़कर भाग गया। बच्चे का धमतरी के अस्पताल में उपचार जारी है। वहीं 13 अप्रैल को तेंदुआ ने रानीगांव में गोकुल ध्रुव के बकरे का शिकार करने के बाद इसी दिन उमरगांव में एक बछड़े का भी शिकार करने का प्रयास किया।

बछड़े को घायल करने के बाद हरापारा में ग्रामीणों ने इस तेंदुआ को देखा। 14 व 15 अप्रैल को तेंदुआ की हलचल सेमरा पहाड़ी पर देखी गई। दूसरे दिन लोगों ने पहाड़ी और तालाब के पास दो शावकों के साथ तेंदुआ को विचरण करते देखा। 15 अप्रैल को ही पुलिस विभाग के आरक्षक ने नगरी- देवपुर मार्ग में पुलिया के पास तेंदुआ को देखा। 16 अप्रैल को रानीगांव में तेंदुआ के पद चिन्ह देखे गए। तेंदुआ की हलचल से वन विभाग भी सक्रिय हो गया है। तेंदुआ को रिहायशी इलाकों से दूर रखने की कसरत चालू हो गई।

इस मामले में डीएफओ अमिताभ भट्टाचार्य ने कहा कि लोगों से सतर्क रहने की अपील की गई है। वन क्षेत्र में जाते समय एहतियात बरतने की अपील भी की गई है। विभाग के कर्मचारी लगातार सर्चिंग कर रहे हैं। कुछ दिनों से वन विभाग का पूरा अमला रात्रि में गश्त कर स्थिति पर नजर रख रहा है।

Next Story
Share it