Action India
लोकल टच

इन सड़कों से संभलकर! ये हैं दिल्ली के टॉप-10 ब्लैक स्पॉट्स और जानलेवा सड़कें

इन सड़कों से संभलकर! ये हैं दिल्ली के टॉप-10 ब्लैक स्पॉट्स और जानलेवा सड़कें
X

एक्शन इंडिया न्यूज़


नॉर्थ-वेस्ट दिल्ली का आजादपुर चौक वैसे तो भारी अतिक्रमण और ट्रैफिक जाम के लिए बदनाम है, लेकिन अब उससे ज्यादा बड़ी और गंभीर चिंता की बात सामने आई है। आजादपुर चौक अब सड़क हादसों के मामले में भी दिल्ली का सबसे खतरनाक और जानलेवा जगह बन गया है। वहीं, आउटर रिंग रोड सबसे ज्यादा खतरनाक और जानलेवा रोड बनकर उभरी है। पिछले साल दिल्ली में हुए सड़क हादसों के विश्लेषण के आधार पर तैयार की गई एक रिपोर्ट में दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने पिछले हफ्ते ही दिल्ली के टॉप 10 नए ब्लैक स्पॉट्स और जानलेवा सड़कों की लिस्ट जारी की है, जिसमें आजादपुर चौक और आउटर रिंग रोड टॉप पर रहे।

  • साल 2020 में दिल्ली में कुल हुए 4178 एक्सिडेंट


रिपोर्ट के अनुसार, पिछले साल 2020 में दिल्ली में कुल 4178 एक्सिडेंट्स हुए थे। इनमें 3662 लोग घायल हुए, जबकि 1163 जानलेवा सड़क हादसे थे, जिनमें 1196 लोगों की मौत हुई। इन 1196 में से 100 लोगों की मौत अकेले आउटर रिंग रोड पर हुई, जहां कुल 256 एक्सिडेंट्स हुए थे। वहीं, अकेले आजादपुर चौक पर 23 एक्सिडेंट्स हुए, जिनमें 22 लोग जख्मी हुए और 9 की जान गई। दूसरे नंबर पर आउटर रिंग रोड का भलस्वा चौक रहा, जहां कुल 16 सड़क दुर्घटनों में 12 लोग जख्मी हुए और 9 मारे गए। गौर करने वाली बात यह भी है कि 2019 के ब्लैक स्पॉट्स की लिस्ट में आजादपुर चौक 8वें नंबर पर रहा था, जबकि मुकंदपुर चौक पहले नंबर पर था। वहीं, मुकरबा चौक तीसरे और मजनूं का टीला चौक छठे नंबर पर रहा था।

  • 287 लोगों को हादसों में गंवानी पड़ी जान

रिपोर्ट के अनुसार, सड़क हादसों के विश्लेषण से यह भी पता चला कि पिछले साल दिल्ली में जितने भी जानलेवा सड़क हादसे हुए थे, उनमें से करीब 25 प्रतिशत हादसे महज 50 किमी की सड़कों के दायरे में और दिल्ली की 77 अलग-अलग जगहों पर हुए। कुल 287 लोगों को इन हादसों में अपनी जानें गंवानी पड़ी। खास बात यह भी है कि इन सड़कों पर हुए सिंपल एक्सिडेंट्स कुल दुर्घटनाओं के महज 18 पर्सेंट के आस-पास ही रहे, जबकि जानलेवा हादसे टोटल फेटल एक्सिडेंट्स के करीब 25 प्रतिशत के आस-पास रहे। यानी इन सड़कों पर जानलेवा हादसे अधिक हुए।

  • आउटर रिंग रोड, रिंग रोड, जीटी करनाल रोड खतरनाक

दिल्ली की टॉप 10 जानलेवा सड़कों में आउटर रिंग रोड, रिंग रोड, जीटी करनाल रोड, रोहतक रोड, एनएच-8, वजीराबाद रोड, नजफगढ़ रोड, महरौली-बदरपुर रोड, एनएच-24 और मथुरा रोड शामिल है। इन सड़कों पर पिछले साल 386 जानलेवा हादसे हुए, जिनमें कुल 400 लोग मारे गए। ओवर स्पीडिंग और साइकल चलाने और पैदल यात्रियों के लिए पर्याप्त सुविधाओं का अभाव इन सड़कों पर हादसों की मुख्य वजह है। ये सड़कें काफी खुली और चौड़ी हैं, जिस कारण गाड़ियां तेज रफ्तार से चलती हैं। वहीं, इन सड़कों के आस-पास कई घनी आबादी वाली बस्तियां भी हैं, जहां गरीब तबके के लोग रहते हैं, जो या तो साइकल का अधिक इस्तेमाल करते हैं या बस स्टॉप तक पैदल या रिक्शे से आते-जाते हैं।

  • जानलेवा सड़कों की नई लिस्ट


Next Story
Share it