Action India

जानिए उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्य कहाँ से लड़ेंगे चुनाव पार्टी ने दिए आदेश

जानिए उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्य कहाँ से लड़ेंगे चुनाव पार्टी ने दिए आदेश
X

लखनऊ . एक्शन इंडिया न्यूज़

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधान सभा चुनाव का बिगुल बज चूका है। सभी पार्टियां लगातार अपने दांव खेलने में जुट गयी है। 5 साल से जनता से दूर रहने वाले नेता अब समाजसेवी बनकर जनता के बिच जा रहें । पार्टियां इसको लेकर रणनीति बना रही है। इसी को लेकर खबर आरही है कि बीजेपी अपने सभी दिग्गज नेताओं को विधानसभा चुनाव के लिए टिकट की घोषणा करने जा रही है। जिसमें सीएम योगी आदित्यनाथ , उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या , दिनेश शर्मा और महेंद्र नाथ सिंह साथ ही नन्द गोपाल गुप्ता नंदी का नाम बताया जा रहा।

सूत्रों के मुताबिक मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को गोरखपुर की किसी सीट से चुनाव लड़ाया जा सकता है तो वहीँ केशव प्रसाद को प्रयागराज की फूलपुर विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। एक और उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा को लखनऊ के किसी भी विधानसभा सीट से टिकट मिल सकता है। इसके साथ -साथ महेंद्र सिंह को इस बार कुंडा से विधानसभा में उतरा जा सकता है। बता दें कि कुंडा उत्तर प्रदेश की चर्चित सीटों में से एक है क्युकि यहाँ पर 30 सालों से राजा भइया का अधिपत्य है। राजा भैया यहाँ से हर बार निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ते है और कई लाख वोट से जीत दर्ज करते है।

आपकी जानकारी के लिए बता दूँ कि इस बार नन्द गोपाल गुप्ता नंदी को प्रयागराज के हंडिया विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। यूपी की सियासत के जानकारों की मानें तो यह सब दिल्ली में बैठे पार्टी के उच्च पदाधिकारियों के निर्देश पर हो रहा है। जिसको देखकर यह साफ अंदाजा लगाया जा सकता है की भाजपा इस बार फिर से जीत के लिए सभी दांव खेल रही। बीजेपी के बड़े नेताओं का कहना है कि हम इस बार चोर दरवाजे से नहीं सीधे जीत कर आएंगे।

यूपी के बड़े नेता पहले विधान परिषद से चुनकर विधानसभा पहुंच जाते थे लेकिन दिल्ली इसबार उत्तर प्रदेश के दिगज्ज नेताओं को विधानसभा चुनाव में उतार कर विपक्ष को कड़ा संदेश देने की फिराक में है। बीजेपी के शीर्ष में बैठे पार्टी के लोग चाहते है कि इस बार लोकल दिगज्जों को मैदान में उतार कर पहले से ज्यादा सीटे जीत सकते है। बीजेपी इस समय युद्ध स्तर पर काम कर रही है। इससे पहले बीजेपी ने जिले में जाकर अपने कार्यकर्ताओं के हाथ मजबूत कर रही है।

बीजेपी अब घर घर जाकर पार्टी के योजनाओं के बारें में बताएगी। तो आप समझ सकते है की जो बड़े नेता सीधे विधानसभा जाना चाहते थे अब उन्हें मैदान में उतरना पड़ेगा। साथ ही जनता से सीधे संवाद कायम करना होगा।

Next Story
Share it