Top
Action India

प्रवासी भारतीयों ने हर्षोल्लास से मनाया लोहड़ी और मकर संक्रान्ति पर्व

प्रवासी भारतीयों ने हर्षोल्लास से मनाया लोहड़ी और मकर संक्रान्ति पर्व
X

लॉस एंजेल्स। एएनएन (Action News Network)

अमेरिका के विभिन्न नगरों में मंगलवार को प्रवासी भारतीयों ने लोहड़ी और मकर संक्रान्ति का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया। पैसाडेना हिंदू मंदिर में लोहड़ी के प्रज्ज्वलित किए जाने और इससे पूर्व 'सुंदरी-मुंदरी तेरा कौन बेचारा' और पंजाबी गीतों पर आधारित कारोक़ि को विदेशी मेहमानों ने ख़ूब सराहा। इस मौक़े पर चीन, मेक्सिको और जापान के अनेक मेहमानों ने भारतीय पर्व के बारे में जानकारी लेने के साथ प्रसाद और महाप्रसाद का आनंद लिया।

चीनी और जापानी युवकों ने कहा कि उन्हें लोहड़ी और होली का पर्व भी ख़ूब भाता है। इन दोनों पर्वों में अंतर और महत्व को जानकर सबने प्रसन्नता ज़ाहिर की। इस बीच स्कूली छात्राओं ने संगीत की धुनों पर नृत्य किया, जिसकी मौजूद लोगों ने ख़ूब सराहना की। पंडित जगदीश राजगौर ने घोषणा की कि पिछले वर्षों की भाँति इस बार भी 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस का पर्व भी ज़ोर-शोर से मनाया जाएगा। इस पर्व पर प्रवासी भारतीय अपनी पारंपरिक वेशभूषा में आए थे।

महिलाएं साड़ियों और पंजाबी सूट में थीं तो अनेक पुरुष पायजामे में दिखाई पड़े। इस अवसर पर बच्चे भी बड़ी तादाद में मौजूद थे। लोहड़ी और मकर संक्रान्ति कार्यक्रम से पूर्व मुख्य पुजारी जगदीश राजगौर ने मंदिर में पहले पूजा अर्चना कराई और फिर लोहड़ी का विधिवत प्रज्ज्वलन किया। उन्होंने इन पर्वों का महत्व बताया। मंदिर में सत्यनारायण की कथा का भी वाचन हुआ।

इस अवसर पर क़रीब डेढ़ सौ लोगों ने एक साथ भारतीय व्यंजनों का महाप्रसाद के रूप में सेवन किया। चावल दाल के साथ पूड़ी हलवा और खिचड़ी का विशेष बंदोबस्त किया गया था। पंजाबी परिवारों ने तिल के लड्डू, रेवड़ी, मूंगफली और पोपकॉर्न को प्रसाद के रुप में वितरित किए।

Next Story
Share it