Top
Action India

लंदन ट्रांसपोर्ट ऑपरेटर को 2 अरब डॉलर की आपातकालीन सरकारी फंडिंग

नई दिल्ली । एएनएन (Action News Network)

कोरोनोवायरस के कारण यात्री संख्या में भारी गिरावट देखने वाले लंदन के परिवहन ऑपरेटर ने कहा कि उसने अक्टूबर तक राजस्व में कमी से निपटने के लिए 1.6 अरब पाउंड (2 अरब डॉलर) सरकारी धन हासिल किया है।

शहर की लाल डबल डेकर बसों और भूमिगत ट्यूब ट्रेनों और अन्य सेवाओं को चलाने वाले ट्रांसपोर्ट फॉर लंदन (टीएफएल) ने कहा कि लॉकडाउन के बाद से अपने नेटवर्क पर किराये और विज्ञापन का 90 प्रतिशत से अधिक राजस्व गंवा दिया। मार्च में लगाए गए लॉकडाउन उपायों ने लोगों की आवाजाही को बंद कर दिया है और ज्यादातर लोग घर से काम कर रहे हैं। टीएफएल ने कहा कि यात्रियों की संख्या में भारी गिरावट आई है। लंदन अंडरग्राउंड के यात्रियों में 95 प्रतिशत और लंदन की बसों के यात्रियों में 85 प्रतिशत की गिरावट आई है।

लंदन के परिवहन आयुक्त माइक ब्राउन ने कहा कि इस समर्थन पैकेज से लंदन को फिर से सुरक्षित और निरंतर रूप से चलने और काम करने में मदद मिलेगी। हमारे कर्मचारियों में से कई के बीमार, परिरक्षण या आत्म अलगाव में होने के बावजूद ट्यूब सेवाओं का 70 प्रतिशत तक और 80 प्रतिशत बस सेवाएं चला रहे हैं।

विपक्षी लेबर पार्टी से ताल्लुक रखने वाले लंदन के मेयर सादिक खान ने पहले चेतावनी दी थी कि अगर गुरुवार तक कोई समझौता नहीं हुआ तो परिवहन सेवाओं को कम करना होगा। क्योंकि सेवाओं का भुगतान करने के लिए दो महीने की धनराशि रखने की आवश्यकता होती है। इसलिए हमें सेवाओं को कम करना शुरू करना होगा।

Next Story
Share it