महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ‘उद्धव ठाकरे’ ने दिया इस्तीफा

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ‘उद्धव ठाकरे’ ने दिया इस्तीफा

आपको बता दे की कल पूरे दिन महाराष्ट्र की राजनीति में गहमा-गहमी रही, रात होते-होते महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ‘उद्धव ठाकरे’ ने सुप्रीम कोर्ट से विपक्ष और शिंदे गुट को फ्लोर टेस्ट की मंजूरी मिलने के बाद अपना इस्तीफा राज्यपाल ‘भगत सिंह कोश्यारी’ को सौंप दिया। उद्धव ने विधान परिषद् के पद से भी इस्तीफा दे दिया है, फेसबुक लाइव में उन्होंने कहा कि ”मैं नहीं चाहता कि शिवसैनिकों का खून बहे इसलिए मैं पद छोड़ रहा हूं”। साथ ही शिवसैनिकों से अपील करते हुए कहा कि बागी विधायकों को रोका ना जाए और कोई भी शिवसैनिक सड़कों पर न उतरें।

उद्धव के इस्तीफे के बाद बागियों की महाराष्ट्र वापसी

उद्धव के इस्तीफे के बाद ही कल रात को बागी हुए विधायक गुवाहटी से गोवा पहुंच गए थे। और आज महाराष्ट्र आकर विधान सभा में बहुमत साबित करेंगे। शिंदे ने साफ़ किया है की उनका समर्थन पूर्ण रूप से बीजेपी को ही है। महाराष्ट्र विधानसभा में कुल 288 सीटें है। एक विधायक के निधन से अभी एक सीट खाली है, तो इस हिसाब से अभी 287 विधायक हैं। सरकार बनाने या बचाए रखने के लिए 144 विधायकों का समर्थन जरूरी है।

‘एकनाथ गुट के विधायक और बीजेपी विधायकों’ में गठबंधन होने के बाद सरकार बनाने के लिए जरुरी आकड़े को यह गठबंधन पार कर रहा है, वही MNS ने भी बीजेपी को ही समर्थन देने के बात कही है।

गठबंधन साबित होने के बाद महाराष्ट्र को एक बार फिर ‘देवेंद्र फडणवीस’ मुख्यमंत्री के तौर पर सँभालने जा रहे है। वही ‘एकनाथ शिंदे’ को भी उपमुख्यमंत्री का पद मिलने वाला है,आपको बता दे इस नई सरकार में शिंदे गुट के 12 विधायकों को मंत्री पद मिलने का अनुमान है। सूत्रों के अनुसार 1 जुलाई को ही शपथ ग्रहण समारोह भी रखा जा सकता है, और एक बार फिर महाराष्ट्र पर बीजेपी गठबंधन का कब्ज़ा हो गया है।

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की बर्बरता से की गई हत्या

दिल्ली में होने वाली है गैंगवार

Advertisement

Advertisement