Action India
अन्य राज्य

कोरोना पर आधारित मैथिली गीत सोशल मीडिया पर मचा रहा है धमाल

कोरोना पर आधारित मैथिली गीत सोशल मीडिया पर मचा रहा है धमाल
X

सहरसा । एएनएन (Action News Network)

वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से पूरा विश्व जूझ रहा है। सरकार देश में लॉकडाउन लगा कर इस पर विजय प्राप्त करने में जुटी है।एक हद तक सफलता भी मिलती नजर आ रही है। ऐसे समय में लोग धैर्य का परिचय देते हुए लॉकडाउन का पालन कर घरों में कैद हैं। घर में बैठे -बैठे उदास ना हो, इसलिए सरकार रामायण एवं महाभारत जैसे धारावाहिक का प्रसारण कर मनोरंजन करने का कार्य कर रही है। इसी कार्य को आगे बढ़ाते हुए सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड की सरडीहा पंचायत के जमुनियां गांव निवासी युवा कलाकार सोनू सिंह कोरोना पर आधारित गीत लिख व गाकर लोगों को जागरूक करने में जुटा हैंश।

जमुनिया गाँव निवासी सुनील प्रसाद सिंह का जेष्ठ पुत्र सोनू जिला मुख्यालय स्थित एक टीचर ट्रेनिंग कॉलेज में डाटा ऑपरेटर के पद पर कार्यरत है। जागरूकता के दृष्टिकोण से कोरोना से बचाव के लिए सोनू ने खुद मैथिली गीत लिखा है जो सोशल मीडिया पर इन दिनों धमाल मचा रहा है। आदर्श उर्फ सोनू अब तक आधा दर्जन से अधिक गीतों को अपनी आवाज में गाकर सोशल मीडिया के प्लेटफार्म फेसबुक, इंस्टाग्राम, यूट्यूब, व्हाट्सएप ग्रुप आदि में सुर्खियां बटोर रहा है। सोनू सिंह के गाये गीत 'कोना के बचते ई दुनिया समझ में नै आबे, कौनौ उपईया आब करियो न है मैया', बात तू माना सुन हो भैया घर से बाहर न ज्यौहो, जहिया से अईले ई कोरोना,धराय दलके बिछोना, यो दनी अपन रूप में आबू ने कोरों ना के भगाबू ने, कोरोना मुर्दाबाद जिशु भैया जिन्दाबाद आदि काफी लोकप्रिय हो रहे हैंं।

इस वैश्विक महामारी में कई समाजसेवियों के समाजिक कार्यों पर भी सोनू सिंह ने गीत लिखकर गाया है जिनमें एक नाम रालोसपा के जिलाध्यक्ष शिवेंद्र कुमार जीशु का आता है। जानकारी देते हुए सोनू ने बताया कि गाना गाने की ख्वाहिश उन्हें बचपन से ही थी। उन्होंने बताया कि आज मैं जो कुछ भी हूँ इस कामयाबी के पीछे मेरी मां और मेरे पिताजी का बहुत बड़ा योगदान है।

Next Story
Share it