Top
Action India

लॉकडाउन का पालन नहीं कर रही हैं ममता, सड़क पर जुटा रहीं भीड़ : दिलीप घोष

लॉकडाउन का पालन नहीं कर रही हैं ममता, सड़क पर जुटा रहीं भीड़ : दिलीप घोष
X

कोलकाता। एएनएन (Action News Network)

कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए लॉकडाउन किए जाने के बावजूद ममता बनर्जी किसी ना किसी बहाने रोज सड़कों पर उतर जा रही हैं और सैकड़ों पर लोगों की भीड़ एकत्रित कर रही हैं। वह खुद लॉकडाउन का पालन नहीं कर रहीं, तो आम लोग क्या करेंगे? उक्त आरोप प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शनिवार को लगाया है।

उन्होंने एक वीडियो संदेश जारी किया है। इसमें ममता बनर्जी पर गैरजरूरी तरीके से सड़कों पर उतरने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह लोगों के बीच जाकर मास्क बांट रही हैं, खाना बांट रही हैं, यह सही नहीं है । यह सब कुछ करने के लिए राज्य के कर्मचारी हैं। अगर ममता सड़क पर उतर गईं तो उन्हें देखने के लिए सैकड़ों लोग एकत्रित होंगे। वह बाजारों में जाकर लोगों की शिकायतें सुन रही हैं।

जाहिर सी बात है लोग अपनी शिकायतें बताने के लिए भीड़ जुटाएंगे। ऐसे में लॉकडाउन कैसे सफल होगा? उन्होंने कहा कि कोरोना का संक्रमण इतना घातक है कि विकसित देश श्मशान में तब्दील हो रहे हैं। यह बात जान कर भी मुख्यमंत्री रास्ते पर उतर रही हैं और लोगों से मिल रही हैं।उन्होंने दावा किया कि राज्य के अल्पसंख्यक इलाके में लॉकडाउन का पालन नहीं किया जा रहा है। उन इलाकों में बड़ी संख्या लोग भीड़ इकट्ठा कर रहे हैं।

हर एक भाजपा कार्यकर्ता पहुंचाएगा 5 लोगों का खाना

दिलीप ने घोषणा की कि राज्य में हर एक भाजपा कार्यकर्ता 5 जरूरतमंदों तक खाना पहुंचाएगा। घोष ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने एक-एक कार्यकर्ता को पांच जरूरतमंद लोगों को खाना पहुंचाने का निर्देश दिया है। राज्य में भाजपा के एक करोड़ कार्यकर्ता हैं। एक करोड़ कार्यकर्ता पांच करोड़ लोगों को खाना पहुंचायेंगे। प्रदेश, जिला और मंडल के नेताओं को निर्देश दिया गया है। ये जरूरतमंद लोगों को चावल, दाल का पैकेट पहुंच रहे हैं। कोई भीड़-भाड़ नहीं करेंगे, कार्यकर्ता अकेले ही घरों में जाकर भोजन पहुंचायेंगे।

Next Story
Share it